IPL 2020: फील्डिंग के दौरान विराट कोहली ने तोड़ा ICC का नियम, तुरंत हुआ गलती का एहसास-देखें VIDEO

DA Image

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सोमवार को कौन बनेगा प्वाइंट टेबल का ‘सरताज’ की जंग में दिल्ली कैपिटल्स ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर पर 59 रनों से जीत दर्ज कर अपनी श्रेष्ठता साबित की। दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मार्कस स्टोइनिस की अगुवाई में 196 रनों का मजबूत स्कोर बनाया। इसके बाद कगिसो रबाडा और अक्षर पटेल की शानदार गेंदबाजी के दम पर बैंगलोर को 137 रनों पर रोक दिया। रबाडा ने चार विकेट झटक कर पर्पल कैप पर भी कब्जा किया। इस मैच के दौरान आरसीबी के कप्तान विराट कोहली ने फील्डिंग के दौरान गलती से गेंद पर लार लगाकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया।

टी20 क्रिकेट में ऐसा करने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने विराट कोहली

दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में दिल्ली के खिलाफ मैच में कोहली ने शॉर्ट कवर पर फील्डिंग करते हुए अपनी तरफ तेजी से आती गेंद को रोका और उसके बाद उस पर लार लगा दी। यह घटना दिल्ली की पारी के तीसरे ओवर में घटी जब सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने तेज गेंदबाज नवदीप सैनी की तीसरी गेंद को ड्राइव किया था। कोहली को हालांकि तुरंत ही अपनी गलती का अहसास हो गया था।

DC के खिलाफ मैच से पहले RCB कप्तान विराट को क्यों याद आई CSK की जीत

पिछले सप्ताह राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाज रोबिन उथप्पा ने कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ फील्डिंग करते समय गेंद पर लार लगा दी थी। आईसीसी ने कोविड-19 महामारी के कारण इस साल जून में गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर बैन लगा दिया था। इस खेल की मानक संचालन प्रक्रिया के अनुसार, ‘अगर खिलाड़ी गेंद पर लार लगाता है तो अंपायर इस स्थिति से निबटेंगे और खिलाड़ियों की इस नई प्रक्रिया से तालमेल बिठाने के शुरुआती चरण के दौरान उदारता बरतेंगे लेकिन आगे इस तरह की घटना पर टीम को चेतावनी दी जाएगी।’

आईसीसी दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि एक टीम को प्रत्येक पारी में दो चेतावनी जारी की जा सकती है लेकिन गेंद पर लार के लगातार उपयोग पर पांच रन की पेनल्टी लगाई जाएगी। जब भी गेंद पर लार का उपयोग किया जाएगा तब अंपायरों को गेंद साफ करनी होगी।

MI vs RR: राजस्थान के कप्तान स्टीव स्मिथ ने दिए टीम में बदलाव के संकेत

Source link