होम आइसोलेशन में भूलकर भी नहीं करें यह काम…..

होम आइसोलेशन में भूलकर भी नहीं करें यह काम.....

होम आइसोलेशन में भूलकर भी नहीं करें यह काम…..

जिन लोगों को कोविड-19 के मामूली लक्षण नजर आते हैं। उन्हें होम आइसोलेट कर दिया जाता है। ताकि गंभीर रूप से बीमार लोगों को एडमिट किया जा सके और शेष लोग घर पर ही ठीक हो जाएं। अगर आप भी होम आइसोलेशन में है, तो कुछ बातों पर ध्यान देना जरूरी है। ताकि आप समय पर ठीक हो जाएं और आप से कोई अन्य व्यक्ति भी प्रभावित नहीं हो।

जानकारी के अनुसार अगर आप होम आइसोलेशन में हैं। तो खुद को घर के अन्य लोगों से दूर रखें और इस दौरान वृद्ध, गर्भवती महिलाएं, बच्चे और बीमार व्यक्तियों से भी दूर रहें। ताकि उनमें से कोई संक्रमित नहीं हो और आपको एक अलग कमरे में ही रहना है। ताकि आप भी इस बीमारी से बच सके।

संक्रमित व्यक्ति को भीड़ भाड़ वाले इलाके में या किसी शादी समारोह में शामिल नहीं होना चाहिए। उन्हें घर पर ही आइसोलेट रहना चाहिए। ताकि उनकी वजह से कोई अन्य व्यक्ति संक्रमित नहीं हो।

होम आइसोलेशन के दौरान इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आपके द्वारा उपयोग किए जा रहे बर्तन, कपड़े आदि का इस्तेमाल घर के दूसरे लोग नहीं करें। आपके द्वारा उपयोग किए गए बर्तन और कपड़ों को अलग ही धो कर अलग ही रखा जाए और उसका इस्तेमाल भी आप ही करें।

होम आइसोलेशन में आपको सर्जिकल मास्क पहनना है, और इस बात का भी ध्यान रखें कि उसे हर 8 घंटे में बदलते रहें और पुराने मास्क को डिस्पोज कर दें। ताकि उसकी वजह से कोई अन्य व्यक्ति प्रभावित नहीं हो।

अगर कोई संक्रमित व्यक्ति के साथ किसी अन्य व्यक्ति को रुकना बहुत ही जरूरी होता है। तो यह बात निश्चित कर ले कि कम से कम 1 मीटर से अधिक की दूरी बनाकर रखें।

होम आइसोलेशन के दौरान व्यक्ति के रूम की साफ-सफाई अच्छे से होना चाहिए और हर दिन रूम में रखी चीजों को डिसइन्फेक्ट करना चाहिए।

संक्रमित व्यक्ति के कपड़े को साबुन और सर्फ के माध्यम से धोना चाहिए और हो सके तो व्यक्ति खुद धो लें। ताकि दूसरे व्यक्ति पर इसका प्रभाव ना पड़े।

होम आइसोलेशन के दौरान संक्रमित व्यक्ति के कमरे की सफाई अगर कोई अन्य व्यक्ति करता है। तो वह दस्ताने पहने, रूम की सफाई के बाद अच्छे से साबुन से हाथ धोये और हो सके तो नहा भी ले।

होम आइसोलेशन के दौरान इधर-उधर ज्यादा हाथ ना लगाएं और समय-समय पर साबुन और सैनिटाइजर से हाथ धोते रहें।

अगर आपको होम आइसोलेट किया गया है। तो 14 दिनों तक सरकारी गाइड लाइन के अनुसार निर्धारित नियमों का पालन करें। अगर इस दौरान आपको किसी प्रकार की कोई दिक्कत या परेशानी आती है। तो चिकित्सक या समीपस्थ अस्पताल से संपर्क करें।

यह उपाय सामान्य जानकारी के आधार पर बताए जा रहे हैं। अगर आप होम आइसोलेट किए गए हैं। तो चिकित्सक या अस्पताल द्वारा बताए गए नियमों का पालन करें। सरकार की गाइडलाइन का ध्यान रखें और जहां तक हो सके अन्य लोगों के संपर्क में नहीं आए। समय पर दवाइयां ले और पर्याप्त मात्रा में भोजन करें।


Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here