हैदराबाद में काल बनकर आई बारिश, 11 लोगों की मौत

हैदराबाद में काल बनकर आई बारिश, 11 लोगों की मौत

हैदराबाद। तेलंगाना के कई हिस्सों में लगातार हो रही भारी बारिश की वजह से कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई है। इसमें से 9 लोगों की मौत तो बदलागुड़ा के मोहम्मदिया हिल्स में दीवार गिरने से हुई है। मंगलवार को भारी बारिश की वजह से सड़कों पर जलभराव हो गया और घरों में पानी घुस गया है। इतना ही नहीं, हैदराबाद में पूरी तरह से जल सैलाब सा मंजर हो गया है। कहीं पानी में कार बहती दिखी तो कहीं कमर से अधिक तक लोग पानी में डूबे दिखे।

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बुधवार सुबह ट्वीट किया, पिछले दो दिनों में यहां भारी बारिश के कारण बंदलागुड़ा के मोहम्मदिया हिल्स में एक दीवार गिरने से नौ लोगों की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि निजी बाउंड्री वॉल गिरने से 9 लोगों की मौत हो गई और 2 घायल हो गए। घटनास्थल के निरीक्षण के दौरान मैंने शाहाबाद में फंसे बस यात्रियों को लिफ्ट दी और अब मैं तालाबकट्टा और यसरब नगर की ओर जा रहा हूं।

वहीं, पुलिस अधिकारी ने कहा कि दो घरों की दीवार पर कुछ बड़े चट्टान गिर गए, जिसमें आठ लोगों की मौत हो गई और चार लोग घायल हो गए। वहीं, एक अन्य घटना में इब्राहिमपटनम इलाके में पुराने घर की छत गिरने से 40 साल की महिला और उसकी 15 साल की बेटी की मौत हो गई।

तेलंगाना के विभिन्न इलाकों में भारी बारिश की वजह से मंगलवार को सामान्य जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। हैदराबाद और राज्य के अन्य इलाकों में जल जमाव हो गया। हैदराबाद के आसपास के इलाके, अट्टापुर मेन रोड, मुशीराबाद, टोली चौकी क्षेत्र और दम्मीगुडा समेत कई इलाके पानी में पूरी तरह से डूब गए हैं। सड़कों पर कमर तक पानी है, जिसकी वजह से लोगों का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। फिलहाल, राज्य की आपदा राहत फोर्स और फायर सर्विस टीम बचाव कार्य में लगी हुई है और टोली चौकी इलाके में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर लोगों को बाहर निकाला।

उस्मानिया विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि इस भारी बारिश की वजह से 14 और 15 अक्टूबर को निर्धारित उस्मानिया विश्वविद्यालय की होने वाली सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। 16 अक्टूबर से परीक्षाएं समय सारिणी के अनुसार आयोजित की जाएंगी। स्थगित परीक्षाओं की अनुसूची शीघ्र ही सूचित की जाएगी।

हैदराबाद समेत तेलंगाना के अन्य इलाकों में हुई बारिश के बाद भारी तबाही से निपटने के लिए राहत और बचाव का काम हो रहा है। मुख्यमंत्री ने सभी जिला प्रशासन को राज्य में भारी बारिश की वजह से अलर्ट रहने को कहा है। हैदराबाद और कई अन्य इलाकों में पिछले 24 घंटे में 20 सेमी बारिश दर्ज की गई।