सोनू सूद ने कहा- हो गया बेड का इंतजाम, कलेक्टर ऑफिस ने कहा-मरीज तो घर पर और स्थिर हालत में है

सोनू सूद ने कहा- हो गया बेड का इंतजाम, कलेक्टर ऑफिस ने कहा-मरीज तो घर पर और स्थिर हालत में है

मुंबई। अभिनेता सोनू सूद को मदद करने का सबूत देना पड़ा है। यह सबूत एक्टर को तब देना पड़ गया जब गंजम डिस्ट्रीक मजिस्ट्रेट एंड कलेक्टर के ट्वीटर हैंडल से यह बताया गया कि एक व्यक्ति को बेड देने के मामले में सोनू सूद के फाउंडेशन ने उनसे कोई सम्पर्क नहीं किया। इससे ऐसा लगा कि सोनू ने बिना मदद किए क्रेडिट लेने के लिए ऐसा लिख दिया। जवाब में सोनू ने कथित व्यक्ति के साथ हुई व्हाट्सऐप बातचीत के स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं।

‘किसी तरह का बेड इश्यू नहीं किया गया है’
दरअसल, सोनू सूद ने बरहमपुर के गंजम सिटी में एक मरीज को सिटी अस्पताल में बेड मुहैया करवाने का भरोसा दिलवाया। इसका ट्वीट भी किया। इसी ट्वीट का स्क्रीनशॉट लेते हुए सोमवार को गंजम के कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से लिखा,’हमें सोनू सूद या उनके फाउंडेशन से कोई सम्पर्क नहीं किया गया। जिस मरीज की बात हो रही है, वह तो घर पर आइसोलेशन में है और उसका स्वास्थ्य स्थिर है। किसी तरह का बेड इश्यू नहीं किया गया है। बरहमपुर कॉर्पोरेशन मॉनिटरिंग कर रहा है।’

‘हमने उसकी मदद की है, देख लो स्क्रीनशॉट’
इस ट्वीट पर सोनू सूद ने भी जवाब दिया है। उन्होंने लिखा,’सर, हमने ये कभी नहीं कहा कि हमने आपसे सम्पर्क किया। जिसे जरूरत थी उसने हमसे सम्पर्क किया और हमने बेड का इंतजाम किया। आपकी देखने के लिए उससे बातचीत के स्क्रीनशॉट अटैच कर रहा हूं। आपका कार्यालय बहुत अच्छा काम कर रहा है और आप ये भी अच्छे से देख सकते हैं कि हमने उसकी मदद की है। उससे सम्पर्क की जानकारी आपको सीधे मैसेज की है। जय हिन्द।’ बता दें कि सोनू के शेयर किए गए स्क्रीनशॉट्स में मरीज से हुई बातचीत है जिसमें पहले मरीज ने अपनी पूरी जानकारी दी है और फिर पुष्टि की है कि उसकी मदद हो गई है।

यह भी पढ़ें : यूजर ने लगाया सोनू सूद पर फ्रॉड करने का आरोप, कंगना रनौत के रिएक्शन ने सबको किया हैरान

यह भी पढ़ें : हरभजन सिंह ने मरीज के लिए लगाई रेमडेसिविर इंजेक्शन की मदद की गुहार, बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद ने की मदद

‘चौबीसोें घंटे काम कर रही टीम’
सोनू के जवाब में बाद एक बार फिर, गंजम कलेक्टर एवं मजिस्ट्रेट के ट्वीटर से जवाब आया। इसमें लिखा गया,’हमारा इरादा आपके सिस्टम की आलोचना करना नहीं था। हमारी अपनी गंजम की एक टीम है जो चौबीसों घंटे मरीजों को बेड उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करती है। फिर भी ये हमारी ड्यूटी है कि हम बेड की उपलब्धता को लेकर जांच करें। इसलिए हमने तथ्य सामने रखे। आपका संगठन बहुत अच्छा काम कर रहा है।’ जवाब में सोनू ने लिखा,’आपके दयालु शब्दों के लिए बहुत धन्यवाद। हमारी टीम देश के लिए चौबीसों घंटे तैयार है। इससे फर्क नहीं पड़ता है कि मुझे कौन, कहां से और कब कॉल करता है, मैं जरूरतमंद तक पहुंचने का सर्वोत्तम प्रयास करता हूं।’


Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here