सरकार ने CNG गाड़ियों में हाइड्रोजन मिलाने को लेकर किया बड़ा फैसला

cng

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोदी सरकार ने गाड़ियों में इस्तेमाल हो रही CNG में हाइड्रोजन मिलाने की मंजूरी दे दी है और इस ईधन को एच-सीएनजी (H-CNG) कहा जा सकता है.

cng (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली:

केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने प्रदूषण को कम करने के लिए कई अहम फैसले लिए हैं. वहीं सरकार पेट्रोल-डीजल (Petrol Diesel) की जगह ऊर्जा के दूसरे स्रोतों पर भी काफी तेजी से काम कर रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोदी सरकार ने गाड़ियों में इस्तेमाल हो रही CNG में हाइड्रोजन मिलाने की मंजूरी दे दी है और इस ईधन को एच-सीएनजी (H-CNG) कहा जा सकता है.

यह भी पढ़ें: भारत की सड़कों पर अब नहीं उतरेगी नई Harley Davidson, कंपनी ने समेटा कारोबार

सीएनजी इंजन में एच-सीएनजी के इस्तेमाल को मंजूरी
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक H-CNG से वायु प्रदूषण काफी कम होने की उम्मीद है. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने सीएनजी इंजन में एच-सीएनजी के इस्तेमाल को मंजूरी दी है और इस मिश्रण में 82 फीसदी सीएनजी और 18 फीसदी हाइड्रोजन होगा. बता दें कि सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय वैकल्पिक ईंधन के लिए काफी कोशिशें कर रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) ने गाड़ियों के लिए हाइड्रोजन वाले H-CNG की स्पेशिफिकेशन को ईंधन के रूप में विकसित किया है.

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार का बड़ा कदम, राज्यों को मिली 670 नई इलेक्ट्रिक बसों की सौगात

हो चुके हैं कई परीक्षण
सीएनजी इंजन वाली गाड़ियों में H-CNG का इस्तेमाल करके कई परीक्षण भी किए जा चुके हैं. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने 25 सितंबर 2020 को केंद्रीय मोटर वाहन नियम 1989 में बदलाव करने के उद्देश्य से जीएसआर 585 (ई) पब्लिस किया है.

संबंधित लेख



First Published : 29 Sep 2020, 12:34:34 PM

For all the Latest Auto News, Cars News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link