वॉर्नर ने 18 साल के लड़के को धोनी के सामने क्यों डाल दिया?

वॉर्नर ने 18 साल के लड़के को धोनी के सामने क्यों डाल दिया?

आईपीएल 2020 का 14 वां मैच. चेन्नई सुपर किंग्स बनाम सनराइजर्स हैदराबाद. हैदराबाद ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए 164/5 रन बनाए. हैदराबाद की तरफ से युवा बल्लेबाज प्रियम गर्ग ने सर्वाधिक 51 रन बनाए. 164 रनों के जवाब में चेन्नई 5 विकेट खोकर 157 रन हीं बना सकी. चेन्नई के तरफ से जडेजा ने 50 रन, तो वहीं धोनी ने नॉटआउट 47 रन बनाए. इस तरह से हैदराबाद ने यह मैच 7 रन से जीता.

लेकिन इस जीत के बाद सीएसके के फैंस और खेमे में निराशा है. खुद कप्तान धोनी ने हार के बाद कहा कि टीम की कुछ कमियों के चलते टीम जीत नहीं पा रही है. धोनी आखिर तक नॉट-आउट लौटे. लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके.

वहीं दूसरी तरफ डेविड वॉर्नर की कप्तानी में हैदराबाद की टीम जीत की पटरी पर लौट आई है. वॉर्नर ने इस जीत के बाद बताया कि कैसे उन्होंने आखिरी ओवर समद से कराने की स्ट्रेटेजी बनाई. साथ ही मैच से 20 मिनट पहले तक उनके प्लेयर्स कैसे खुद को तैयार करते हैं.

मैच के बाद हैदराबाद के कप्तान वार्नर ने कहा,

”मैंने समद को बैक किया. क्योंकि मेरे पास और कोई ऑप्शन नहीं था. 19वां ओवर खत्म होने में पांच गेंद बाकी थे. हमारे पास खलील ऑप्शन था. तो मैंने 19वें ओवर में ही खेल खत्म करने की कोशिश की. 20वां ओवर अभिषेक को दे सकता था. लेकिन जिस तरीके से समद ने मैच में गेंदबाजी की थी और उसकी लंबाई है. इसलिए उससे अंतिम ओवर करवाया.”

डेथ ओवरों में बोलिंग के बारे में पूछे जाने पर वार्नर ने कहा,

“यह लड़के काफी मेहनत कर रहे हैं .मैच शुरू होने से 20 मिनट पहले तक यह लड़के यार्कर, लेंग्थ बॉल और धीमी गेंद का अभ्यास कर रहे थे. ताकि जरूरत आने पर इन सब स्किल का प्रयोग कर सकें.”

वॉर्नर ने अपनी टीम के युवा खिलाड़ियों पर कहा कि

”यह देखकर अच्छा लगा कि हमारे खिलाड़ी खुद को बैक कर रहे हैं. यही हमारे टीम के युवाओं को मैसेज भी था. मैंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था, ‘जब तक इन लड़कों को बैटिंग करने का मौका नहीं मिलेगा. इनके लिए काफी मुश्किल होगा.’

वॉर्नर ने आगे अपनी बल्लेबाज़ी पर भी बात की. उन्होंने कहा,

”यह विकेट पिछले मैच के मुक़ाबले थोड़ा खराब था. पुल मारने के लिए लेंग्थ नहीं मिल रही थी. इसलिए शुरुआत में स्विंग के खिलाफ संभलकर कर खेला.”