विद्या बालन को एक साथ 12 फिल्मों से निकाल दिया गया, इंडस्ट्री में लोग एक्ट्रेस को मनहूस कहने लगे

एक साथ 12 फिल्मों से निकाल दिया गया था विद्या बालन को, इंडस्ट्री में लोग बुलाने लगे थे एक्ट्रेस को मनहूस

नई दिल्ली। अभिनेत्री विद्या बालन की गिनती बॉलीवुड की बेहतरीन अभिनेत्रियों में होती है। विद्या ने एक से बढ़कर एक चुनौतीपूर्ण किरदार निभाए हैं। हर फिल्म में विद्या का एक अलग रूप देखने को मिलता है। यही कारण है कि विद्या को एक बहुमुखी अभिनेत्री भी माना जाता है। अभिनेत्री ने फिल्म ‘परिणीता’ से लोकप्रियता हासिल की। वहीं आज विद्या की नई फिल्म शेरनी ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम पर रिलीज हो गई है. जिसकी वजह से वह आज भी सुर्खियों में बनी रहती हैं, लेकिन एक समय ऐसा भी था जब विद्या को कई समस्याओं का सामना करना पड़ा था।

मुश्किलों से भरा रहा विद्या का सफर

वैसे विद्या बालन ने अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत टीवी शो ‘हम पांच’ से की थी, लेकिन साल 2006 में उनका हाथ परिणीता से लग गया। विद्या इस फिल्म में सैफ अली खान और संजय दत्त के साथ नजर आई थीं। विद्या का संघर्ष काल कठिनाइयों से भरा रहा। साथ ही टीवी से बॉलीवुड में कदम रखना भी काफी मुश्किल है। कहा जाता है कि विद्या की जिंदगी में एक वक्त ऐसा भी आया जब उनके हाथ से एक या दो नहीं बल्कि 12 प्रोजेक्ट निकले। जिसके कारण उन्हें मनहूस कहा जाने लगा।

विद्या बालन ने पूरी की पढ़ाई

एक इंटरव्यू में विद्या ने बताया कि ‘उन्होंने 1996 में ‘हम पांच’ सीरियल किया था। इसके बाद उन्होंने साल 2004 में ‘परिणीता’ फिल्म में काम किया। इस बीच आठ साल तक उन्होंने सेंट जेवियर्स कॉलेज से ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की। फिर वह एमबीए की पढ़ाई के लिए चली गई। विद्या का मानना ​​था कि अगर कुछ नहीं हुआ तो कम से कम वह पढ़ाई कर सकेगी और अच्छा काम कर पाएगी। क्योंकि अक्सर उनके माता-पिता उन्हें बताते थे कि ग्रेजुएशन जरूरी है।

यह भी पढ़ें- अभिनेत्री विद्या बालन को वन मंत्री के खाने के प्रस्ताव को ना कहना पड़ा, डीएफओ ने रोका यूनिट का वाहन

विद्या बालन को मनहूस कहने लगे लोग

विद्या ने आगे बताया कि उन्होंने साउथ के सुपरस्टार मोहनलाल और निर्देशक कमान के साथ एक मलयालम फिल्म की थी। मोहनलाल और कमान ने एक साथ आठ फिल्में की थीं और नौवीं फिल्म में वह उनके साथ थीं। लेकिन तभी अचानक उनके बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया। जिसके चलते फिल्म को बंद करना पड़ा। जिसके बाद उन्होंने कहा कि ‘अच्छी फिल्म क्यों बंद हो गई क्योंकि उस फिल्म में विद्या थी।

विद्या बताती है कि उन दोनों ने सारे आरोप उसके सिर पर डाल दिए और कहने लगे कि वह मनहूस है। विद्या आगे कहती हैं कि उस समय फिल्म के पहले शेड्यूल के दौरान वर्ड ऑफ माउथ बहुत अच्छा था और उन्हें करीब 12 फिल्मों के लिए चुना गया था।

यह भी पढ़ें- जब जीरो फिगर बनाकर करीना कपूर ने उड़ाया विद्या बालन के मोटापे का मजाक

विद्या को फिल्मों के साथ-साथ विज्ञापनों से भी हटा दिया गया था।

मोहनलाल की फिल्म के बंद होने के कारण विद्या बालन को अपने अन्य प्रोजेक्ट भी गंवाने पड़े। विद्या ने इंटरव्यू में बताया कि 12 में से 12 फिल्में देखते ही उनके हाथ से निकल गई। क्‍योंकि इंडस्‍ट्री के लोगों को लगता था कि अगर यह लड़की पहली ही फिल्‍म में मुसीबत में पड़ गई तो इसे नहीं लेना चाहिए। विद्या बताती हैं कि उन्हें फिर से कुछ तमिल फिल्में मिलीं। लेकिन फिर भी उसे बाहर कर दिया गया। विद्या को फिल्मों के साथ-साथ विज्ञापनों से भी बाहर कर दिया गया था।

शंकतला देवी का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

फिल्मी करियर में सफलता हासिल करने के बाद विद्या ने निर्माता सिद्धार्थ रॉय कपूर से शादी कर ली। विद्या शादी के बाद भी इंडस्ट्री में बनी रहती हैं। साल 2020 में विद्या की फिल्म ‘शंकुतला देवी’ ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई थी। जिसमें उनकी एक्टिंग की काफी तारीफ हुई थी. यह फिल्म महान गणितज्ञ शंकुतला देवी के जीवन पर आधारित थी।

.

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here