‘राजा हिंदुस्तानी’ आधी रात में आनंद बक्शी ने क्यों लगाया गीतकार समीर को फोन

'राजा हिंदुस्तानी' आधी रात में आनंद बक्शी ने क्यों लगाया गीतकार समीर को फोन

मुंबई। आमिर खान और करिश्मा कपूर स्टारर फिल्म ‘राजा हिंदुस्तानी’ के गानों को भला कौन भूल सकता है। एक—एक गाने में खास भाव और उसको उसी शिद्त से जीते कलाकार। गाने के बोल भी ऐसे जैसे माला में मोती पिरोए हों। 1996 में रिलीज हुई इस फिल्म से आमिर, करिश्मा, जॉनी लीवर दर्शकों के दिलों में बस गए थे। इसी मूवी से जुड़ा एक किस्सा गीतकार समीर का है। मूवी के एक सॉन्ग को लेकर मशहूर गीतकार आनंद बक्शी ने समीर को आधी रात को फोन लगा दिया था।

आधी रात में समीर को लगा दिया फोन

दरअसल, उस जमाने में समीर नए-नवेले गीतकार थे। उनकी मुलाकात आनंद बक्शी से समीर के पिता ने ही करवाई थी। आनंद बक्शी जानेमाने और मशहूर गीतकार थे। अक्सर समीर अपने लिखे गीतों के बारे में आनंद बक्शी से सुझाव लिया करते थे। जवाब में आनंद उन्हें कहते के लिखना जारी रखो। अभी धार आना बाकी है। थोड़े और सुधार की जरूरत है। ऐसे ही चलता रहा। द लल्लनटॉप को दिए एक इंटरव्यू में समीर ने बताया कि जब राजा हिंदुस्तानी फिल्म रिलीज हुई, तो आनंद बक्शी ने भी देखी और आधी रात को समीर को फोन लगा दिया। उन्होंने बातचीत की शुरूआत गाली से की और बोले,’सुन, ***** तू बोलता था न मुझे कि अंकल मुझे आशीर्वाद दीजिए। आज तुझे दिल से आशीर्वाद दिया।’ स्वाभाविक तौर पर समीर इस पर चौंकने ही थे और उन्होंने पूछा ऐसा क्या हुआ। जवाब में आनंद जी ने कहा,’आज मैं तेरी ‘राजा हिंदुस्तानी’ फिल्म देखकर आया और मुझे ‘तेरे इश्क में नाचेंगे’ गाना बहुत अच्छा लगा। विशेषकर वो पंक्ति, तेरी तिजोरी का सोना नहीं, दिल है हमारा खिलौना नहीं। ये लाइन सुनकर मैं समझ गया कि तू अब किरदार जीने लगा है और अब तेरा हाथ कोई नहीं रोक पाएगा।’

यह भी पढ़ें : कपिल के शो में गीतकार समीर ने खोला राज, बताया किससे प्रेरित था ‘साजन’ का ‘देखा है पहली बार’ गाना

‘तेरे इश्क में नाचेंगे’ सॉन्ग को आमिर खान और करिश्मा कपूर पर फिल्माया गया है। इस गाने को अलीशा चिनॉय, कुमार सानू और सपना मुखर्जी ने गाया।

यह भी पढ़ें : पुराने फेमस गानों को रिक्रिएट करने के खिलाफ बॉलीवुड से उठी आवाज़,मिलकर सभी जाएंगे कोर्ट

‘मुझे नींद ना आए, मुझे चैन ना आए’
‘इंडियन आइडल’ 12 में समीर ने एक और गीत को लेकर रोचक जानकारी शेयर की थी। समीर ने बताया कि ‘मुझे नींद ना आए, मुझे चैन ना आए’ गाना प्रोड्यूसर इंद्र कुमार को पसंद नहीं आया था। उनका कहना था कि ये लाइन वह करीब 500 गानों में सुन चुके हैं। ये बहुत घिसी-पिटी लाइनें हैं, नहीं चाहिए।’ हालांकि बाद में ये गाना भी रखा गया और उस जमाने में काफी लोकप्रिय भी हुआ।


Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here