मिल्खा सिंह के निधन पर पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, आप लाखों लोगों के प्रेरणास्रोत रहेंगे

DA Image

भारत के दिग्गज धावक मिल्खा सिंह का शुक्रवार को 91 साल की उम्र में निधन हो गया। यह जानकारी परिवार के प्रवक्ता ने पीटीआई को दी। मिल्खा के परिवार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मिल्खा सिंह ने रात 11.30 बजे अंतिम सांस ली। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने महान भारतीय धावक मिल्खा सिंह के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि भारत ने एक ऐसा महान खिलाड़ी खो दिया है जिसका जीवन उभरते खिलाड़ियों को प्रेरित करता रहेगा।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘मिल्खा सिंह जी के निधन से हमने एक महान खिलाड़ी खो दिया है, जिनकी अनगिनत भारतीयों के दिलों में खास जगह थी। उनके प्रेरक व्यक्तित्व से उन्हें लाखों लोग प्यार करते थे। उनके निधन से आहत हूं। उन्होंने आगे लिखा, ‘मैंने कुछ दिन पहले श्री मिल्खा सिंह जी से बात की थी। मुझे नहीं पता था कि यह हमारी आखिरी बात होगी। उनका जीवन कई नवोदित खिलाड़ियों को प्रेरित करेगा। उनके परिवार और दुनिया भर में उनके प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं।

इससे पहले पीजीआईएमईआर अस्पताल ने उनके स्वास्थ्य की जानकारी देते हुए कहा था कि शुक्रवार शाम को कोविड-19 के बाद उत्पन्न जटिलताओं के कारण उनकी हालत गंभीर हो गई थी। उनका ऑक्सीजन लेवल कम था और उन्हें बुखार था। पिछले महीने कोविड-19 से संक्रमित मिल्खा सिंह का बुधवार को परीक्षण निगेटिव आया जिसके बाद उन्हें कोविड आईसीयू से सामान्य आईसीयू में स्थानांतरित कर दिया गया और डॉक्टरों की एक टीम उनके स्वास्थ्य की निगरानी कर रही थी।

गुरुवार की रात उन्हें बुखार हुआ और उनका ऑक्सीजन लेवल गिर गया था। उन्हें पिछले महीने कोविड-19 संक्रमण हुआ था। उनकी पत्नी निर्मल कौर का रविवार को मोहाली के एक निजी अस्पताल में कोविड-19 संक्रमण से जूझते हुए निधन हो गया। चार बार के एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता, मिल्खा ने 1958 के राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1960 के रोम ओलंपिक में था जिसमें वे 400 मीटर फाइनल में चौथे स्थान पर रहे थे। उन्होंने 1956 और 1964 के ओलंपिक में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया। उन्हें १९५९ में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।

सम्बंधित खबर

.

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here