भारत की हरकत से ‘सक्ते’ में ब्रिटिश सरकार, कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट पर बदला लहजा

DA Image

कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता नहीं मिलने पर ब्रिटिश सरकार भारत की कार्रवाई कर सकती है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, भारत में ब्रिटिश उच्चायोग के प्रवक्ता ने कहा है कि हम भारतीय कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता देने के लिए मोदी सरकार को तकनीकी सहयोग जारी रखेंगे.

आपको बता दें कि ब्रिटेन ने अभी तक भारत के कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता नहीं दी है, जिस पर भारत सरकार ने जवाबी कार्रवाई करते हुए आज ऐलान किया कि ब्रिटेन से आने वाले लोगों का भारत में 10 दिन क्वारंटीन में रहना जरूरी होगा. हालांकि ब्रिटेन ने भारत में दी जाने वाली कोविशील्ड वैक्सीन को ही स्वीकृत टीकों से बाहर रखा था, जिस पर भारत ने ‘टाइट फॉर लाइक’ रवैया अपनाकर कार्रवाई की चेतावनी दी थी। इसके बाद ब्रिटिश सरकार ने वैक्सीन को मंजूरी दे दी, लेकिन तकनीकी दिक्कतों का हवाला देते हुए सर्टिफिकेट पर सवाल खड़ा कर दिया गया.

इतना ही नहीं इसके लिए टीकाकरण की स्थिति का कोई प्रावधान नहीं किया गया है। आने वाले यात्री को भले ही कोरोना वैक्सीन के दो टीके लग चुके हों, लेकिन उसे आइसोलेशन में रहना होगा। इसके अलावा भारत आने के लिए कुछ नियम भी तय किए गए हैं। ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों के लिए यह जरूरी होगा कि उनके पास यात्रा से 72 घंटे पहले तक कोरोना आरटीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट हो।

सम्बंधित खबर

.

Source link

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here