प्रेग्नेंट महिलाएं सर्दियों में ऐसे रखें अपना ख्याल, करना न भूलें ये गलतियां

सर्दियों में प्रेगनेंट महिलाओं को इस तरह रखना चाहिए अपना ख्याल, भूलकर भी ना करें ये गलतियाँ

सर्दियों में गर्भवती महिलाओं की परेशानी बढ़ जाती है। सर्दियों में गर्भवती महिलाओं को अपना खास ख्याल रखना चाहिए। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि गर्भवती महिलाओं को सर्दियों में कैसे अपना ख्याल रखना चाहिए।

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है, जिससे उनमें संक्रमण और बीमारियों का खतरा अधिक होता है। ऐसे में सर्दियों में गर्भवती महिलाओं की परेशानी बढ़ जाती है। सर्दियों में गर्भवती महिलाओं को अपना खास ख्याल रखना चाहिए। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि गर्भवती महिलाओं को सर्दियों में कैसे अपना ख्याल रखना चाहिए-

यह भी पढ़ें: वजन घटाना है तो नाश्ते में भी न खाएं ये 5 चीजें

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है, जिससे उनमें संक्रमण की आशंका अधिक होती है। ऐसे में गर्भवती महिलाओं को सर्द हवाओं और सर्दियों में ठंड से बचाना बेहद जरूरी है। इसलिए जब भी घर से बाहर निकलें तो गर्म कपड़े, मोजे, टोपी और दस्ताने पहन कर ही निकलें।

गर्भवती महिला के लिए गर्भावस्था के दौरान अपने खान-पान का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। गर्भावस्था में कमजोर इम्युनिटी के कारण सर्दी और बुखार हो सकता है। ऐसे में इम्युनिटी मजबूत करने के लिए हाई प्रोटीन और पौष्टिक आहार लें। अपने आहार में मौसमी फल और सब्जियां, दालें, दूध, घी, मेवा आदि शामिल करें।

सर्दियों में प्यास कम होती है लेकिन फिर भी आपको पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए। गर्भावस्था के दौरान एक महिला के शरीर को अधिक पानी की आवश्यकता होती है। पानी की कमी आपको और आपके बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती है। गर्भावस्था में डिहाइड्रेशन से कमजोरी, चक्कर आना और सिरदर्द जैसी समस्या हो सकती है, इसलिए खूब पानी पिएं। इसके अलावा आप जूस, स्मूदी या गर्म दूध का भी सेवन कर सकते हैं।

यदि आप गर्भावस्था के दौरान फ्लू से सुरक्षा प्राप्त करना चाहती हैं, तो आप फ्लू का टीका लगवा सकती हैं। यह मां और बच्चे दोनों को फ्लू से सुरक्षा प्रदान करता है। डॉक्टरों के मुताबिक, यह गर्भवती महिलाओं को सांस के संक्रमण से बचाता है। इतना ही नहीं, फ्लू का टीका बच्चे के जन्म के छह महीने बाद तक फ्लू से सुरक्षा प्रदान करता है।

यह भी पढ़ें: गर्भपात रोकने वाली गोलियों से हो सकता है बच्चे में कैंसर, स्टडी में चौंकाने वाला खुलासा

गर्भावस्था के दौरान क्रेविंग होना आम बात है लेकिन संक्रमण से बचने के लिए बाहर का खाना खाने से बचें। इसके अलावा गर्भावस्था के दौरान बासी खाना खाने से बचें क्योंकि यह आपके और आपके बच्चे के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है।

गर्भावस्था के दौरान अपने आसपास की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। खाना पकाने से पहले सब्जियां और हाथ धो लें। इसके साथ ही घर में पोछा लगाते समय कीटाणुनाशक का प्रयोग करें।

गर्भावस्था के दौरान त्वचा भी बदलने लगती है। सर्दियों में ठंड के कारण त्वचा अधिक रूखी और बेजान हो जाती है। ऐसे में नहाने के लिए ज्यादा गर्म पानी का इस्तेमाल न करें। इसके साथ ही त्वचा की नमी को बरकरार रखने के लिए किसी अच्छी मॉइश्चराइजिंग क्रीम का इस्तेमाल जरूर करें।

– प्रिया मिश्रा

अस्वीकरण: इस लेख में सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और सूचनाओं को डॉक्टर या चिकित्सकीय पेशेवर की सलाह के रूप में न लें। किसी भी बीमारी के लक्षण होने पर डॉक्टर से सलाह लें।

,

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here