पोषक तत्वों से भरपूर पान के पत्ते खाने के स्वास्थ्य लाभ – स्ट्रेस बस्टर

पोषक तत्वों से भरपूर पान के पत्ते खाने के स्वास्थ्य लाभ - स्ट्रेस बस्टर

हिंदू धर्म में पान का बहुत महत्व है। इसका उपयोग पूजा में भी किया जाता है। इसके अलावा पान का सेवन ज्यादातर माउथ फ्रेशनर के तौर पर किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि पान के पत्ते सेहत के लिहाज से भी काफी फायदेमंद होते हैं। जी हां, सुपारी में कई पोषक तत्व होते हैं। इसमें प्रोटीन, खनिज, फाइबर, विटामिन सी, विटामिन ए, पोटेशियम और आयोडीन होता है। ये सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। आइए जानते हैं इसके स्वास्थ्य लाभ।

दांतों के लिए फायदेमंद- पान के पत्तों में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। यह दांतों में बैक्टीरिया के संक्रमण को रोकने में मदद करता है। आप नियमित रूप से पान चबा सकते हैं। यह न केवल दांतों की सड़न को रोकने में मदद करता है बल्कि दांत दर्द से भी राहत देता है।

मुंहासों का इलाज- पान के पत्तों में रोगाणुरोधी गुण होते हैं। वे त्वचा के घावों, खुजली और एलर्जी से राहत दिलाने में मदद करते हैं। इसके लिए आपको पान के पत्तों के रस में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर मुंहासों पर लगाना है। पान के पत्तों में रोगाणुरोधी और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। पानी में उबाली गई पत्तियों का उपयोग त्वचा की समस्याओं के इलाज के लिए भी किया जा सकता है।

कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए- पान के पत्तों में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। वे मुक्त कणों से होने वाले नुकसान को रोकने में मदद करते हैं। ये कब्ज की समस्या से राहत दिलाने में मदद करते हैं। इसे आप रोज सुबह खाली पेट ले सकते हैं।

पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के लिए- पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के लिए आप पान के पत्तों का सेवन कर सकते हैं। पान में पाचक गुण होते हैं। वे आपके भोजन को बेहतर ढंग से पचाने में आपकी मदद करते हैं। इसके सेवन से गैस और पेट की समस्या दूर होती है।

सिरदर्द दूर करने के लिए- पान के पत्तों में दर्द निवारक गुण होते हैं। सिरदर्द से पीड़ित लोगों के लिए यह फायदेमंद है। सिर दर्द को कम करने के लिए आप पान के पत्तों को माथे पर लगा सकते हैं। इसके अलावा आप इसके तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए – पान के पत्तों में मधुमेह विरोधी गुण होते हैं। ये ब्लॉक शुगर को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।

गठिया की समस्या को दूर करने के लिए- पान के पत्तों में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। ये गठिया की समस्या पर काबू पाने में मदद कर सकते हैं।


Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here