जामुन के फायदे: जामुन ही नहीं बल्कि इसकी गुठली भी होते हैं कई फायदे, जानिए किन बीमारियों में और कैसे करें इसका सेवन

Benefits Of Jamun: जामुन ही नहीं उसकी गुठली के भी हैं अनेकों फायदे, जानिए किन बिमारियों में और कैसे करें इसका सेवन

जामुन के फायदेजामुन का पका फल पथरी के रोगियों के लिए रोग निवारक औषधि है। पथरी बन भी जाए तो उसकी गुठली के चूर्ण को दही के साथ प्रयोग करने से लाभ होता है।

जामुन के फायदे: अप्रैल से जुलाई के महीने में मिलने वाला जामुन किसी औषधि से कम नहीं है। इसके फल, छाल, पत्ते और गुठली भी अपने औषधीय गुणों के कारण विशेष महत्व रखती है। यह शीतल, प्रतिजैविक, स्वादिष्ट, पाचक, पित्त-कफ और रक्त दाहक भी है। प्री-मानसून के महीने में इसका सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

और पढ़ें: जिंदगी का मजा लेना है तो सुबह जल्दी उठने की आदत डालें

जामुन का पका फल पथरी के रोगियों के लिए रोग निवारक औषधि है। पथरी बन भी जाए तो उसकी गुठली के चूर्ण को दही के साथ प्रयोग करने से लाभ होता है। जामुन के सेवन से लगातार लीवर में सुधार होता है। जामुन के सिरके का प्रयोग कब्ज और पेट के रोग में करें।

और पढ़ें: यहां बताया गया है कि आपका वजन ऊंचाई के अनुसार सही है या नहीं

जामुन के रस को मुंह के छालों पर लगाएं। उल्टी होने पर जामुन के रस का सेवन करें। भूख न लगने पर जामुन का सेवन फायदेमंद होता है। यह पाचक भी होता है। मुंहासे होने पर जामुन की गुठली को सुखाकर पीस लें। इस चूर्ण में थोड़ा सा गाय का दूध मिलाकर रात को मुंहासों पर लगाएं, सुबह ठंडे पानी से चेहरा धो लें।

और पढ़ें: फिट रहने के लिए महिलाओं और पुरुषों को रोजाना लेनी चाहिए इतनी कैलोरी

जामुन मधुमेह के रोगियों के लिए भी बहुत फायदेमंद फल है। जामुन के दानों को सुखाकर पीस लें। इस चूर्ण को फोड़ने से मधुमेह में लाभ होता है।

और पढ़ें: डिप्रेशन के ये लक्षण दिखें तो तुरंत करें घरेलू नुस्खे

.

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here