जानिए एक दिन में कितना नमक खाना चाहिए, WHO ने जारी की गाइडलाइन – Stress Buster

जानिए एक दिन में कितना नमक खाना चाहिए, WHO ने जारी की गाइडलाइन - Stress Buster

आप जितने चाहें उतने मिर्च मसाले डालें, लेकिन बिना नमक वाला खाना बुरा लगता है। लेकिन हर कोई अपने तरीके से नमक खाता है, कुछ अधिक और कुछ कम। हालांकि, कई स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि किसी को बहुत अधिक नमक नहीं खाना चाहिए क्योंकि यह किसी के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी हाल ही में नमक के सेवन पर अपनी खुद की गाइडलाइन जारी की है। वहीं, अध्ययन के बाद डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी दी है कि बहुत अधिक नमक खाने से हर साल लगभग 30 लाख लोग मारे जाते हैं। WHO का कहना है कि दिन में 5 ग्राम नमक पर्याप्त है।

हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा

वास्तव में हमारे शरीर को सोडियम और पोटेशियम दोनों की आवश्यकता होती है। अधिक नमक खाने से शरीर में अधिक सोडियम और पोटेशियम और सोडियम के स्तर में असंतुलन हो जाता है। अतिरिक्त सोडियम हड्डियों को कमजोर करता है और उच्च बीपी का कारण बनता है। इससे ब्रेन स्ट्रोक, दिल से संबंधित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है, साथ ही यह किडनी पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है।

5 ग्राम नमक शरीर की जरूरतों को पूरा करता है

डब्लूएचओ के अनुसार, एक व्यक्ति की सोडियम की आवश्यकता पांच ग्राम नमक से पूरी होती है। लेकिन हम में से ज्यादातर लोग दिन भर में औसतन लगभग 9 से 12 ग्राम नमक खाते हैं। WHO अध्ययन के दौरान प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ, पैकेज्ड खाद्य पदार्थ, डेयरी और मांस में सबसे अधिक नमक पाया गया। डब्ल्यूएचओ के अनुसार, अगर नमक को मॉडरेशन में खाया जाए तो लगभग 2.5 मिलियन लोगों की मौत को रोका जा सकता है।

कौन से खाद्य पदार्थ में पर्याप्त सोडियम होता है?

WHO ने 60 से अधिक खाद्य श्रेणियों में सोडियम के स्तर के लिए खाद्य वातावरण में सुधार और जीवन को बचाने के लिए नए मानक स्थापित किए हैं। डब्ल्यूएचओ के दिशानिर्देशों के अनुसार, 100 ग्राम आलू के चिप्स में 100 ग्राम से अधिक सोडियम नहीं होना चाहिए। 120 ग्राम तक सोडियम पाई और पेस्ट्री में और संसाधित मीट में 30 मिलीग्राम तक पर्याप्त होता है।

नमक क्यों जरूरी है

नमक का सेवन शरीर के लिए भी जरूरी है क्योंकि इसके कई फायदे हैं। यह शरीर को हाइड्रेट करने का काम करता है। सिस्टिक फाइब्रोसिस के लक्षणों में सुधार करता है। थायरॉयड ग्रंथि को ठीक से काम करने में मदद करता है। लो बीपी के मरीजों के लिए भी फायदेमंद। लेकिन इसे आवश्यकतानुसार खाना चाहिए। ज्यादा नमक सेहत के लिए घातक हो सकता है।


Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here