एसिड अटैक के बाद जब टूटी कंगना की बहन रंगोली की शादी, योग कर सदमे से निकलीं

जब एसिड अटैक के बाद टूट गई थी कंगना की बहन रंगोली की शादी, योग कर सदमे से आई थीं बाहर

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत सोशल मीडिया के साथ-साथ सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहती हैं। अक्सर कंगना हर मुद्दे पर बोलती हैं और निडर होकर लिखती हैं। साथ ही वह सोशल मीडिया पर अपने परिवार से जुड़ी कई बातें भी शेयर करती हैं। आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर कंगना ने स्टोरीज पर अपने परिवार की कुछ तस्वीरें पोस्ट की हैं। जिसमें उनके माता-पिता, भाई अक्षत और भाभी रितु बहन रंगोली नजर आ रही हैं। इसी के साथ कंगना ने अपनी बहन रंगोली चंदेल को लेकर एक किस्सा अपने फैंस के साथ शेयर किया है.

कंगना की बहन रंगोली पर एसिड अटैक

कंगना ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम पर अपनी बहन रंगोली के बारे में लिखा कि- ‘रंगोली के योग की कहानी बहुत प्रेरणादायक है। कंगना ने बताया कि एक पागल प्रेमी ने रंगोली के चेहरे पर तेजाब फेंक दिया। उस समय वह केवल 21 वर्ष की थी और थर्ड डिग्री बर्न थी। रंगोली का आधा चेहरा जल गया था। एसिड की वजह से एक आंख की रोशनी चली गई। वहां एक कान पिघल गया था। एसिड की वजह से ब्रेस्ट भी क्षतिग्रस्त हो गए थे। एसिड अटैक के बाद रंगोली की दो से तीन साल में करीब 53 सर्जरी हुई थी। लेकिन वह भी काफी नहीं था।

मानसिक स्वास्थ्य को लेकर चिंतित थे

कंगना आगे कहती हैं कि ‘वह रंगोली की मेंटल हेल्थ को लेकर सबसे ज्यादा चिंतित थीं। इस हादसे के चलते रंगोली ने बोलना बंद कर दिया था। घर में जो कुछ भी होता है, रंगोली चुप रहती है। बस चीजों को देखता रहा। कंगना बताती हैं कि रंगोली की सगाई वायुसेना के एक अधिकारी से हुई थी। एसिड अटैक के बाद जब उन्होंने रंगोली का जला हुआ चेहरा देखा तो फिर कभी वापस नहीं आए। यह जानकर रंगोली की आंखों से आंसू नहीं निकले और मुंह से एक भी शब्द नहीं निकला।’

यह भी पढ़ें- कंगना रनौत की पार्टी में अर्जुन रामपाल को देख भड़के लोग, कहा- ‘क्या यह वही कुर्सी है’

डॉक्टरों ने बताया रंगोली सदमे में चली गई

कंगना आगे लिखती हैं कि जब उन्होंने डॉक्टरों से बात की तो डॉक्टरों ने कहा कि ‘वो शॉक में चली गई हैं. जिसके बाद रंगोली को मनोचिकित्सक की मदद से उपचार दिया गया। लेकिन इससे भी वह ठीक नहीं हुई। कंगना ने बताया कि जब रंगोली के साथ यह घटना हुई तब वह सिर्फ 19 साल की थीं।

वह अपने गुरु सूर्य नारायण के साथ योग करती थीं। कंगना का कहना है कि उन्हें नहीं पता था कि यह योग जलने और मनोवैज्ञानिक आघात, रेटिना ट्रांसप्लांट रिकवरी और खोई हुई दृष्टि के रोगियों की भी मदद कर सकता है।

यह भी पढ़ें- अश्वेत व्यक्ति की हत्या पर बॉलीवुड ने मनाया ब्लैकआउट टुडेडे, कंगना रनौत ने याद दिलाया पालघर कांड

योग करने से ठीक होती है रंगोली

कंगना अंत में लिखती हैं कि ‘वह चाहती थीं कि रंगोली उनसे बात करें चाहे कुछ भी हो जाए। जिसके बाद वह उन्हें हर जगह अपने साथ ले जाती थी। कंगना कहती हैं कि फिर उन्होंने रंगोली को अपने साथ योगा क्लास में ले जाना शुरू किया। रंगोली ने योग करना शुरू किया और फिर कंगना ने अपने अंदर गजब का ट्रांसफॉर्मेशन देखा। कंगना बताती हैं कि योगा करने के बाद रंगोली हंसने लगती थीं और रंगोली भी उनके खराब जोक्स पर हंसती थीं. रंगोली की आंखों की रोशनी वापस आने लगी। योग हर प्रश्न का उत्तर है, क्या आपने इसे अब तक आजमाया है?’

.

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here