www के जनक टिम बर्नर्स ली का जन्मदिन आज

Facebook


www यानी वर्ल्ड वाइड वेब के जनक टिम बर्नर्स ली का आज जन्मदिन है। टिम का जन्म आठ जून 1955 को इंग्लैंड में हुआ था। टिम ने क्वींस कॉलेज, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से शिक्षा ग्रहण की थी। इस दौरान उन्होंने अपने दोस्त के साथ मिलकर कई सिस्टम हैक किए थे, जिसके बाद उनके कॉलेज के कम्प्यूटर इस्तेमाल करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। इसके बावजूद टिम ने टेलीविजन, एक मोटोरोला माइक्रो-प्रोसेसर और सोल्डरिंग आयरन से खुद ही कम्प्यूटर तैयार किया था। तो आज हम आपको टिम के जन्मदिन के खास अवसर पर उनसे जुड़ी कुछ ऐसी ही दिलचस्प बातें बताएंगे, जिनके बारे में आप शायद ही जानते होंगे। 

टिम बर्नर्स ली के माता-पिता गणित के विशेषज्ञ थे, इसलिए उन्होंने टिम को भी गणित का एक्सपर्ट बना दिया था। कहा जाता है कि टिम के माता-पिता ने उनको खाने की मेज तक का गणित समझाया था।

टिम बर्नर्स ली ने सन 1989 में इंफॉरमेशन मैनेजमेंट- ए प्रपोजल′ नाम से रिसर्च पेपर लिखा था। इसमें उन्होंने हाइपरटेक्स्ट और इंटरनेट को एक साथ जोड़ दिया। इससे सर्न का कम्यूनिकेशन सिस्टम बेहतर बनाने में मदद मिली थी। मगर टिम का सोचना था कि इस सिस्टम का इस्तेमाल पूरी दुनिया में किया जा सकता है। इसके बाद टिम ने सन 1994 में वेब संघ की स्थापना की थी। 

टिम बर्नर्स ली ने 1991 में पहली वेबसाइट http://info.cern.ch लॉन्च की। इस पर वर्ल्ड वाइड वेब कांसेप्ट के बारे में पूरी जानकारी दी गई थी, जिससे कोई भी यूजर अपनी वेबसाइट शुरू कर सकता था। टिन बर्नर्स ली को HTML, URL, HTTP जैसी तकनीकों के फंडामेंटल लिखने का श्रेय भी जाता है।साल 2004 में टिम बर्नर्स को ब्रिटेन की महारानी ने नाइटहुड की उपाधि दी थी। इसके बाद 2007 में टिम को ऑर्डर ऑफ मेरिट का सम्मान भी मिला था। वहीं, टिम बर्नर्स का नाम दुनिया 100 महान वैज्ञानिकों की सूची में शामिल है।

www यानी वर्ल्ड वाइड वेब के जनक टिम बर्नर्स ली का आज जन्मदिन है। टिम का जन्म आठ जून 1955 को इंग्लैंड में हुआ था। टिम ने क्वींस कॉलेज, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से शिक्षा ग्रहण की थी। इस दौरान उन्होंने अपने दोस्त के साथ मिलकर कई सिस्टम हैक किए थे, जिसके बाद उनके कॉलेज के कम्प्यूटर इस्तेमाल करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। इसके बावजूद टिम ने टेलीविजन, एक मोटोरोला माइक्रो-प्रोसेसर और सोल्डरिंग आयरन से खुद ही कम्प्यूटर तैयार किया था। तो आज हम आपको टिम के जन्मदिन के खास अवसर पर उनसे जुड़ी कुछ ऐसी ही दिलचस्प बातें बताएंगे, जिनके बारे में आप शायद ही जानते होंगे। 

टिम बर्नर्स ली के माता-पिता गणित के विशेषज्ञ थे, इसलिए उन्होंने टिम को भी गणित का एक्सपर्ट बना दिया था। कहा जाता है कि टिम के माता-पिता ने उनको खाने की मेज तक का गणित समझाया था।

टिम बर्नर्स ली ने सन 1989 में इंफॉरमेशन मैनेजमेंट- ए प्रपोजल′ नाम से रिसर्च पेपर लिखा था। इसमें उन्होंने हाइपरटेक्स्ट और इंटरनेट को एक साथ जोड़ दिया। इससे सर्न का कम्यूनिकेशन सिस्टम बेहतर बनाने में मदद मिली थी। मगर टिम का सोचना था कि इस सिस्टम का इस्तेमाल पूरी दुनिया में किया जा सकता है। इसके बाद टिम ने सन 1994 में वेब संघ की स्थापना की थी। 

टिम बर्नर्स ली ने 1991 में पहली वेबसाइट http://info.cern.ch लॉन्च की। इस पर वर्ल्ड वाइड वेब कांसेप्ट के बारे में पूरी जानकारी दी गई थी, जिससे कोई भी यूजर अपनी वेबसाइट शुरू कर सकता था। टिन बर्नर्स ली को HTML, URL, HTTP जैसी तकनीकों के फंडामेंटल लिखने का श्रेय भी जाता है।साल 2004 में टिम बर्नर्स को ब्रिटेन की महारानी ने नाइटहुड की उपाधि दी थी। इसके बाद 2007 में टिम को ऑर्डर ऑफ मेरिट का सम्मान भी मिला था। वहीं, टिम बर्नर्स का नाम दुनिया 100 महान वैज्ञानिकों की सूची में शामिल है।



Follow करें और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here