WTC Final 2021: क्या बतौर कप्तान आईसीसी की पहली ट्रॉफी जीत पाएंगे विराट कोहली? जानिए ब्रेट ली का जवाब

DA Image

विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने पिछले कुछ सालों में शानदार क्रिकेट खेली है। कप्तान के तौर पर विराट का रिकॉर्ड भी इंटरनेशनल क्रिकेट में बेमिसाल रहा है। हालांकि, भारतीय फैन्स और खुद कोहली को बतौर कप्तान आईसीसी ट्रॉफी ना जीत पाने का जरूर मलाल रहा है। डब्ल्यूटीसी के फाइनल मुकाबले में टीम इंडिया के कप्तान के पास पहली आईसीसी ट्रॉफी पर कब्जा करने का सुनहरा मौका होगा। हालांकि, केन विलियमसन की अगुवाई वाली न्यूजीलैंड से पार पाना कोहली एंड कंपनी के लिए कतई आसान नहीं होगा। तो क्या विराट कप्तान के तौर पर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का खिताब जीतकर आईसीसी की पहली ट्रॉफी को अपने नाम कर पाएंगे। इस पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। 

ब्रेट ली ने बताया, वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत और न्यूजीलैंड में से किसका पलड़ा रहेगा भारी

आईसीसी की वेबसाइट से बात करते हुए कहा, ‘दोनों ही कप्तान इस ट्रॉफी को आखिर में उठाना चाहते होंगे। अगर बात भारतीय कप्तान विराट कोहली की करें तो वह डायनामिक खिलाड़ी हैं, वह अपनी टीम को काफी प्रभावित करते हैं, वह विश्व स्तरीय बल्लेबाज हैं। लेकिन, मुझे लगता है कि वह जिस तरह से अपनी टीम, अपने देश को दिखाते हैं कि टेस्ट क्रिकेट उनके लिए कितना महत्वपूर्ण है, वह उन पर भारी पड़ेगा और उसकी मदद से उनके प्रदर्शन में निखार आएगा। हम सभी जानते हैं कि कोहली बड़े मैचों में दमदार खेल दिखाते हैं। और जैसे आपने कहा कि वह अपनी टीम को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पहला विजेता जरूर बनाना चाहेंगे। वह उनके लिए काफी महत्व रखता है। और मुझे लगता है कि यह चर्चा का विषय रहेगा। एक बार जब सबकुछ बोल लिया जाएगा, एक बार जब तैयारियां पूरी हो जाएंगी, जब उनका क्वारंटाइन पूरा हो जाएगा, ठीक उनके मैदान पर उतरने से पहले, मुझे लगता कि वह आखिरी कमेंट होगा। उनको इसका मजा लेते हैं, लेकिन उनको वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप जीतने वाली पहली टीम बनने देते हैं।’

India tour of England 2021: अक्षर पटेल ने बताया साउथम्पटन में तीन दिन क्या नहीं कर सकेगी टीम इंडिया

ली ने कहा कि उनको लगता है कि फाइनल मैच में न्यूजीलैंड की टीम का पलड़ा भारी रहने वाला है। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि दोनों टीमें एक जैसी हैं। मैं हालांकि न्यूजीलैंड के स्वदेश में इसी तरह की परिस्थितियों में खेलने के बारे में सोच रहा हूं। परिस्थितियां तेज गेंदबाजों, स्विंग गेंदबाजों के अनुकूल हो सकती है। इसलिए यहां मुझे लगता है कि कीवी टीम को फायदा हो सकता है। जहां तक बल्लेबाजी का सवाल है तो दोनों टीमों के पास ऐसे बल्लेबाज हैं जो स्विंग गेंदबाजी को खेल सकते हैं। लेकिन मुझे लगता है कि गेंदबाजों की भूमिका अहम होगी और जो भी टीम अच्छी गेंदबाजी करेगी वह फाइनल में विजेता बनेगी।’

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here