कोरोना सेफ्टी नियमों के साथ जल्द काम शुरू करने वाली है यह वाहन निर्माता कंपनी

Facebook

भारत में काफी लंबे समय से जारी लॉकाडाउन 3.0 के खत्म होने के बाद फिर से काम शुरू करने के लिए कार निर्माता कंपनियां तैयारियां कर रही हैं. साथ ही साथ कंपनियां ये गाइडलाइंस भी जारी कर रही हैं किं कोरोनोवायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए क्या रोकथाम कदम उठाए जाएं और सोशल डिसटेंसिंग को कैसे बनाए रखा जाना चाहिए. देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी Maruti Suzuki ने अपने डीलर्स को एक व्यापक मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) जारी की है. डीलर्स ने ग्राहकों के लिए कारों की डिलीवरी शुरू कर दी है. आइए जानते है पूरी जानकारी विस्तार से

इस मामले को लेकर SOP के अनुसार, सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखा जाएगा और कर्मचारियों को अधिक से अधिक फिजिकल कॉन्टेक्ट न करने के लिए कहा जाएगा. डीलरशिप के अंदर ग्राहक पहले से अपॉइंटमेंट लेकर आएंगे और एंट्री करते वक्त प्रति ग्राहक की स्क्रीनिंग होगी. अगर ग्राहक टेस्ट ड्राइव के लिए कहते हैं तो उन्हें यह सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी और प्रति टेस्ट ड्राइवर के बाद कार को सैनिटाइज किया जाएगा. कार में इस दौरान खासतौर पर उन चीजों को ज्यादा सैनिटाइज किया जाएगा जो कि ज्यादा टच की जाएंगी. जैसे स्टीयरिंग व्हील, गियर नॉब, हैंड ब्रेक लीवर, स्विच, टचस्क्रीन और स्टीरियो सिस्टम आदि पर खास ध्यान दिया जाएगा. टेस्ट ड्राइव के दौरान सीट को डिस्पोजेबल कवर से ढका जाएगा और प्रति टेस्ट ड्राइवर के बाद उसे बदल दिया जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Maruti Suzuki India ने मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ Kenichi Ayukawa ने मारुति सुजुकी शोरूम पर नए ऑपरेशन प्रोसेस को लेकर कहा कि “हमारे लिए ग्राहक की संतुष्टि और सेफ्टी सबसे पहले है. हमारे सभी डीलरशिप पूरी तरह से सेफ्टी, सफाई और सैनिटाइजेशन को ध्यान में रखते हुए काम करेंगे और सभी जरूरी कदमों को उठाएंगे. मैं अपने ग्राहकों को सुनिश्च करना चाहता हूं कि मारुति सुजुकी में आपका कार खरीदने का अनुभव पूरी तरह से सेफ है.”

भारत में काफी लंबे समय से जारी लॉकाडाउन 3.0 के खत्म होने के बाद फिर से काम शुरू करने के लिए कार निर्माता कंपनियां तैयारियां कर रही हैं. साथ ही साथ कंपनियां ये गाइडलाइंस भी जारी कर रही हैं किं कोरोनोवायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए क्या रोकथाम कदम उठाए जाएं और सोशल डिसटेंसिंग को कैसे बनाए रखा जाना चाहिए. देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी Maruti Suzuki ने अपने डीलर्स को एक व्यापक मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) जारी की है. डीलर्स ने ग्राहकों के लिए कारों की डिलीवरी शुरू कर दी है. आइए जानते है पूरी जानकारी विस्तार से

इस मामले को लेकर SOP के अनुसार, सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखा जाएगा और कर्मचारियों को अधिक से अधिक फिजिकल कॉन्टेक्ट न करने के लिए कहा जाएगा. डीलरशिप के अंदर ग्राहक पहले से अपॉइंटमेंट लेकर आएंगे और एंट्री करते वक्त प्रति ग्राहक की स्क्रीनिंग होगी. अगर ग्राहक टेस्ट ड्राइव के लिए कहते हैं तो उन्हें यह सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी और प्रति टेस्ट ड्राइवर के बाद कार को सैनिटाइज किया जाएगा. कार में इस दौरान खासतौर पर उन चीजों को ज्यादा सैनिटाइज किया जाएगा जो कि ज्यादा टच की जाएंगी. जैसे स्टीयरिंग व्हील, गियर नॉब, हैंड ब्रेक लीवर, स्विच, टचस्क्रीन और स्टीरियो सिस्टम आदि पर खास ध्यान दिया जाएगा. टेस्ट ड्राइव के दौरान सीट को डिस्पोजेबल कवर से ढका जाएगा और प्रति टेस्ट ड्राइवर के बाद उसे बदल दिया जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Maruti Suzuki India ने मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ Kenichi Ayukawa ने मारुति सुजुकी शोरूम पर नए ऑपरेशन प्रोसेस को लेकर कहा कि “हमारे लिए ग्राहक की संतुष्टि और सेफ्टी सबसे पहले है. हमारे सभी डीलरशिप पूरी तरह से सेफ्टी, सफाई और सैनिटाइजेशन को ध्यान में रखते हुए काम करेंगे और सभी जरूरी कदमों को उठाएंगे. मैं अपने ग्राहकों को सुनिश्च करना चाहता हूं कि मारुति सुजुकी में आपका कार खरीदने का अनुभव पूरी तरह से सेफ है.”