RCB vs SRH: पूर्व इंग्लैंड कप्तान माइकल वॉन की भविष्यवाणी, यह है भारत का भविष्य का बल्लेबाज, लेकिन शेष दुनिया…

258daf60b334dbb1c72da49fab9c9463?source=nlp&quality=uhq&format=webp&resize=720

RCB vs SRH: माइकल वॉन ने जब इस बल्लेबाज के बारे में कहा, तो जरूर इसमें कुछ खास होगा

नई दिल्ली: हालिया सालों में टीम विराट के बल्लेबाजी डिपार्टमेंट ने बहुत ज्यादा सुधार किया है. बात चाहे टेस्ट हो, या फिर कोई और फॉर्मेट, बल्लेबाजों ने  बेहतर किया है. फिर चाहे यह केएल राहुल हों, या शिखर धवन, सभी ने किसी न किसी फॉर्मेट में अपनी छाप छोड़ी है. शीर्ष स्तर पर भारत के पास रोहित शर्मा, शिखर धवन, पृथ्वी शॉ और मयंक अग्रवाल जैसे बल्लेबाज हैं. और अब इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने कहा है कि इन सबके बाद भारत को जारी इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के जरिए एक और दिग्गज बल्लेबाज मिल गया है, जो आने वाले समय में दुनिया भर के बॉलरों को परेशान करेगा और यही वजह है कि हालिया समय में भारत की बल्लेबाजी दुनिया में सर्वश्रेष्ठ है क्योंकि उसके पास कोई न कोई विकल्प आ रहा है. 

यह बात माइकल वॉन ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के युवा ओपन देवदत्त पडिक्कल के बारे में कही है, जिन्हें इस सत्र की खोज कहा जा सकता है. वास्तव में देवदत्त की परिपक्वता, कॉन्फिडेंस और  उनकी निरंतरता ने सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है और वह उम्मीद जगाते दिख रहे हैं. टीम मैनेजमेंट ने भी उन्हें प्रोन्नत किया और हैदराबाद के खिलाफ मैच से पहले तक यह लेफ्टी ओपनर अपने पहले ही संस्करण में 12 मैचों में 34.75 के औसत और 128.0 के स्ट्राइक रेट से 417 रन बटोर चुका है. इसमें देवदत्त के चार अर्द्धशतक भी शामिल हैं. मुंबई इंडियंस के खिलाफ उन्होंने पिछले मैच में बेहतरीन पचासा जड़ा था. 

मुंबई के खिलाफ बेहतरीन पारी देखने के बाद वॉन ने कहा कि आने वाले सालों में दुनिया को बहुत कुछ इस बल्लेबाज के बारे में सुनने को मिलेगा. यहां तक की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में देवदत्त अपनी छाप छोड़ने जा रहा हैं. पूर्व कप्तान ने कहा कि मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि अगले कुछ सालों में हमें उनके बल्ले से कुछ शानदार प्रदर्शन देखने को मिलेगा.  और यह सिर्फ आईपीएल ही नहीं, बल्कि बाकी अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में भी होगा. फिर चाहे यह अगले साल हो या बहु जल्द, मैं इसे लेकर आश्वस्त हूं.  वॉन ने कहा कि वह अपने खेल में काफी नैसर्गिकता रखता  है और दबाव से निपटने में सक्षम दिखता है. देवदत्त के पास खेल के हालात को लेकर सजगता है. वह स्पिन को बहुत ही बढ़िया तरीके से खेलता है. साथ ही, पूरे शांत चित्त और नियंत्रण के साथ तेज बल्लेबाजी करता है. दुर्भाग्यवश, शेष दुनिया के पास ऐसी प्रतिभा नहीं है, लेकिन भारत को दिग्गज बल्लेबाज मिल गया है.