Pinterest की टक्कर में गूगल ने लांच किया Keen

Facebook


यदि आपका मन पिंटरेस्ट से भर गया है तो गूगल ने आपके लिए एक नया इंतजाम कर दिया है। गूगल ने पिंटरेस्ट की टक्कर में Keen नाम से एक प्लेटफॉर्म तैयार किया है। कीन काफी हद तक Pinterest जैसा ही है। कीन पर भी आपको पिंटरेस्ट की तरह किसी खास विषय से संबंधित कंटेंट मिलेंगे। गूगल का यह प्लेटफॉर्म कंटेंट के लिए मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करता है।आमतौर पर किसी खास विषय से संबंधित कंटेंट के लिए लोगों को इंटरनेट पर काफी वक्त जाया करना पड़ता है| 

 लेकिन पिंटरेस्ट और कीन जैसे प्लेटफॉर्म से लोगों का समय बचता है और मनचाहे कंटेंट भी मिल जाते हैं। पिंटरेस्ट और कीन में एक बहुत बड़ा फर्क यह है कि पिंटरेस्ट में आपको सर्च या ब्राउज करना पड़ता है लेकिन कीन में आपको एक बार ही सर्च करना पड़ेगा। इसके बाद गूगल मशीन लर्निंग की मदद से आपको कंटेंट प्रोवाइड कराएगा।कीन में भी आपको पिंटरेस्ट की तरह ही कंटेंट को शेयर और सेव करने का विकल्प मिलेगा। 

इसकी जानकारी कीन के को-फाउंडर CJ Adams ने दी है। उन्होंने कहा कि कीन के लिए गूगल की 120 लोगों की टीम काम कर रही है ताकि लोगों को मशीन लर्निंग के जरिए बेहतर कंटेंट पहुंचाया जाए।कीन प्लेटफॉर्म पर अपना कीन भी बना सकते हैं और उसे आप शेयर भी कर सकते हैं। इसके अलावा अन्य कीन यूजर्स आपको फॉलो भी कर सकते हैं। आप अपने कीन को निजी या सार्वजनिक रख सकते हैं। कीन प्लेटफॉर्म आपकी सर्चिंग विहैवियर को लगातार ट्रैक करेगा और उससे संबंधित कंटेंट आपको दिखाएगा।

यदि आपका मन पिंटरेस्ट से भर गया है तो गूगल ने आपके लिए एक नया इंतजाम कर दिया है। गूगल ने पिंटरेस्ट की टक्कर में Keen नाम से एक प्लेटफॉर्म तैयार किया है। कीन काफी हद तक Pinterest जैसा ही है। कीन पर भी आपको पिंटरेस्ट की तरह किसी खास विषय से संबंधित कंटेंट मिलेंगे। गूगल का यह प्लेटफॉर्म कंटेंट के लिए मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करता है।आमतौर पर किसी खास विषय से संबंधित कंटेंट के लिए लोगों को इंटरनेट पर काफी वक्त जाया करना पड़ता है| 

 लेकिन पिंटरेस्ट और कीन जैसे प्लेटफॉर्म से लोगों का समय बचता है और मनचाहे कंटेंट भी मिल जाते हैं। पिंटरेस्ट और कीन में एक बहुत बड़ा फर्क यह है कि पिंटरेस्ट में आपको सर्च या ब्राउज करना पड़ता है लेकिन कीन में आपको एक बार ही सर्च करना पड़ेगा। इसके बाद गूगल मशीन लर्निंग की मदद से आपको कंटेंट प्रोवाइड कराएगा।कीन में भी आपको पिंटरेस्ट की तरह ही कंटेंट को शेयर और सेव करने का विकल्प मिलेगा। 

इसकी जानकारी कीन के को-फाउंडर CJ Adams ने दी है। उन्होंने कहा कि कीन के लिए गूगल की 120 लोगों की टीम काम कर रही है ताकि लोगों को मशीन लर्निंग के जरिए बेहतर कंटेंट पहुंचाया जाए।कीन प्लेटफॉर्म पर अपना कीन भी बना सकते हैं और उसे आप शेयर भी कर सकते हैं। इसके अलावा अन्य कीन यूजर्स आपको फॉलो भी कर सकते हैं। आप अपने कीन को निजी या सार्वजनिक रख सकते हैं। कीन प्लेटफॉर्म आपकी सर्चिंग विहैवियर को लगातार ट्रैक करेगा और उससे संबंधित कंटेंट आपको दिखाएगा।