Lalinjuala Chhangte का बड़ा बयान कहा- ‘छेत्री के समर्थन ने पदार्पण मैच में मेरे ऊपर से दबाव…’

Facebook

सैफ चैम्पियनशिप-2015 में नेपाल के खिलाफ पदार्पण मैच में दो गोल कर नाम कमाने वाले भारतीय फुटबाल टीम के खिलाड़ी लालइनजुआला छांग्ते ने कहा है कि सुनील छेत्री के समर्थन ने उनके ऊपर से पदार्पण मैच का दबाव खत्म कर दिया था.

छांग्ते ने भारतीय टीम के आधिकारिक फेसबुक पेज पर कहा, “मैं महान सुनील भाई के साथ खेलने को लेकर थोड़ा नर्वस था. मैं अभी तक जितने खिलाड़ियों के साथ खेला हूं वो उनमें से सर्वश्रेष्ठ हैं. मैं उस समय बच्चा था. उन्हें शायद यह पता चल गया था कि मैं नर्वस हूं और हाफ टाइम पर जब मैंने संजू भाई (प्रधान) का स्थान लिया था उन्होंने मुझे बुलाया. उन्होंने मेरे कंधे पर अपना हाथ रखा और इसने मेरे ऊपर से दबाव हटा दिया.”

उन्होंने कहा, “मैं अभी भी जब मैदान पर जाता हूं तो उनके शब्द अभी भी मेरे कानों में गूंजते हैं. उन्होंने मुझसे कहा था कि जब तुम अपने हाफ में हो तो गेंद को जल्दी छोड़ो और एक शेप बनाए रखने की कोशिश करो, लेकिन जब तुम अटैकिंग में हो तो जोखिम लेने से डरना नहीं. तुम में काबिलियत है इसलिए अपना स्वाभाविक खेल खेलो. यह शानदार था. यह सुनकर मेरे अंदर जुनून आ गया.”

सैफ चैम्पियनशिप-2015 में नेपाल के खिलाफ पदार्पण मैच में दो गोल कर नाम कमाने वाले भारतीय फुटबाल टीम के खिलाड़ी लालइनजुआला छांग्ते ने कहा है कि सुनील छेत्री के समर्थन ने उनके ऊपर से पदार्पण मैच का दबाव खत्म कर दिया था.

छांग्ते ने भारतीय टीम के आधिकारिक फेसबुक पेज पर कहा, “मैं महान सुनील भाई के साथ खेलने को लेकर थोड़ा नर्वस था. मैं अभी तक जितने खिलाड़ियों के साथ खेला हूं वो उनमें से सर्वश्रेष्ठ हैं. मैं उस समय बच्चा था. उन्हें शायद यह पता चल गया था कि मैं नर्वस हूं और हाफ टाइम पर जब मैंने संजू भाई (प्रधान) का स्थान लिया था उन्होंने मुझे बुलाया. उन्होंने मेरे कंधे पर अपना हाथ रखा और इसने मेरे ऊपर से दबाव हटा दिया.”

उन्होंने कहा, “मैं अभी भी जब मैदान पर जाता हूं तो उनके शब्द अभी भी मेरे कानों में गूंजते हैं. उन्होंने मुझसे कहा था कि जब तुम अपने हाफ में हो तो गेंद को जल्दी छोड़ो और एक शेप बनाए रखने की कोशिश करो, लेकिन जब तुम अटैकिंग में हो तो जोखिम लेने से डरना नहीं. तुम में काबिलियत है इसलिए अपना स्वाभाविक खेल खेलो. यह शानदार था. यह सुनकर मेरे अंदर जुनून आ गया.”