Karva chauth vrat 2020 : करवा चौथ व्रत पूजन सामग्री पूजा मंत्र और शुभ मुहूर्त

Karva chauth vrat 2020 : करवा चौथ व्रत पूजन सामग्री पूजा मंत्र और शुभ मुहूर्त
Karva chauth vrat 2020 : करवा चौथ व्रत पूजन सामग्री पूजा मंत्र और शुभ मुहूर्त

देश के कुछ हिस्सों में करवा चौथ व्रत पूजा की थाली को ‘बाया’ भी कहते हैं, जिसमें सिंदूर, रोली, जल और सूखे मेवे भी रहते हैं। इसके साथ ही मिट्टी के दीए भी पूजा की थाली में होना जरूरी होते हैं।

करवा चौथ व्रत में प्रयोग होने वाली सामग्री लिस्ट-

Karwa Chauth 2020 : Know The Rules Of Fasting And Follow Them, Karva Chauth Vrat Ke Niyam, करवा चौथ व्रत के न‍ियम क्‍या हैं? | Karwa Chauth 2020 : करवा चौथ व्रत

चंदन, शहद, अगरबत्ती, पुष्प,  कच्चा दूध, शक्कर,  शुद्ध घी, दही, मिठाई, गंगाजल, अक्षत (चावल), सिंदूर, मेहंदी, महावर, कंघा, बिंदी, चुनरी, चूड़ी,  बिछुआ, मिट्टी का टोंटीदार करवा व ढक्कन,  दीपक, रुई, कपूर, गेहूं, शक्कर का बूरा, हल्दी, जल का लोटा, गौरी बनाने के लिए पीली मिट्टी, लकड़ी का आसन, चलनी, आठ पूरियों की अठावरी, हलुआ और दक्षिणा (दान) के लिए पैसे आदि।

सूर्योदय से पहले खा लेनी चाहिए सरगी-

मान्यता है कि सूर्योदय से पहले सरगी खा लेनी चाहिए। यह सरगी सास बहू को देती है। सरगी खाते समय दक्षिण दिशा की ओर मुंह करना शुभ होता है।

करवा चौथ में चंद्रमा की पूजा का महत्व-

karwa-chauth-2020-date time shubh muhurat moon rise time in karwa chauth vrat vidhi puja vidhi vrat katha

शास्त्रों में चंद्रमा को आयु, सुख और शांति का कारक माना जाता है। मान्यता है कि चंद्रमा की पूजा से वैवाहिक जीवन सुखी होती है और पति की आयु लंबी होती है।

करवा चौथ शुभ मुहूर्त-

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, काशी में या आसपास में चंद्रोदय समय रात में लगभग 7:57 बजे होगा। 4 नवंबर को शाम 05 बजकर 34 मिनट से शाम 06 बजकर 52 मिनट तक करवा चौथ की पूजा का शुभ मुहूर्त है।

फॉलो करें =>Google news Account & Dailyhunt Account को, और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here