अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति की मौत से जॉर्डन भी दुखी कहा – बस बहुत हो गया

Facebook


वाशिंगटन: बास्केटबॉल क्लब चार्लोट होर्नेट्स के मालिक और बास्केटबॉल लीजेंड माइकल जॉर्डन ने अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर गहरा दुख प्रकट करते हुए कहा है कि जॉर्ज की मौत से उन्हें गहरा सदमा पहुंचा है और वह काफी गुस्से में हैं। बता दें कि अफ़्रीकी अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की दरअसल पिछले हफ्ते मिनीपोलिस में पुलिस हिरासत के दौरान मौत हो गयी थी जिसके बाद अमेरिका के कई शहरों में उग्र विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया।

लीजेंड जॉर्डन ने रविवार को एक बयान जारी करते हुए कहा है कि, “मैं बहुत दुखी हूं और काफी निराश तथा क्रोधित हूं। मैं सबका गुस्सा, दर्द और निराशा समझ आ सकता हूं। मैं उन लोगों के साथ खड़ा हूं जो देश में नस्लीय पक्षपात  के खिलाफ हैं। बस अब बहुत हो गया।” उन्होंने कहा कि, “मेरे पास इसका समाधान नहीं हैं लेकिन हम सबकी संयुक्त आवाज यह दर्शाती है कि हमें विभाजित करने वाले असमर्थ हैं। हमें एक-दूसरे की बात माननी चाहिए तथा करुणा और सहानुभूति दर्शानी चाहिए और कभी भी बेतुकी क्रूरता से मुंह नहीं मोड़ना चाहिए। हमें अन्याय के खिलाफ शांतिपूर्ण अभिव्यक्ति जारी रखने और जवाबदेही की मांग करने की आवश्यकता है। हममें से प्रत्येक को समाधान का हिस्सा बनने की जरुरत है और हमें सभी को न्याय सुनिश्चित करने के लिए मिलकर कार्य करना चाहिए।”

उन्होंने कहा, “मैं जॉर्ज फ्लॉयड के परिवार के प्रति सांत्वना प्रकट करता हूं और उन लोगों के प्रति भी संवेदना प्रकट करता हूं जिनकी जातिवाद और अन्याय कि वजह से मौत हो गयी।

वाशिंगटन: बास्केटबॉल क्लब चार्लोट होर्नेट्स के मालिक और बास्केटबॉल लीजेंड माइकल जॉर्डन ने अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर गहरा दुख प्रकट करते हुए कहा है कि जॉर्ज की मौत से उन्हें गहरा सदमा पहुंचा है और वह काफी गुस्से में हैं। बता दें कि अफ़्रीकी अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की दरअसल पिछले हफ्ते मिनीपोलिस में पुलिस हिरासत के दौरान मौत हो गयी थी जिसके बाद अमेरिका के कई शहरों में उग्र विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया।

लीजेंड जॉर्डन ने रविवार को एक बयान जारी करते हुए कहा है कि, “मैं बहुत दुखी हूं और काफी निराश तथा क्रोधित हूं। मैं सबका गुस्सा, दर्द और निराशा समझ आ सकता हूं। मैं उन लोगों के साथ खड़ा हूं जो देश में नस्लीय पक्षपात  के खिलाफ हैं। बस अब बहुत हो गया।” उन्होंने कहा कि, “मेरे पास इसका समाधान नहीं हैं लेकिन हम सबकी संयुक्त आवाज यह दर्शाती है कि हमें विभाजित करने वाले असमर्थ हैं। हमें एक-दूसरे की बात माननी चाहिए तथा करुणा और सहानुभूति दर्शानी चाहिए और कभी भी बेतुकी क्रूरता से मुंह नहीं मोड़ना चाहिए। हमें अन्याय के खिलाफ शांतिपूर्ण अभिव्यक्ति जारी रखने और जवाबदेही की मांग करने की आवश्यकता है। हममें से प्रत्येक को समाधान का हिस्सा बनने की जरुरत है और हमें सभी को न्याय सुनिश्चित करने के लिए मिलकर कार्य करना चाहिए।”

उन्होंने कहा, “मैं जॉर्ज फ्लॉयड के परिवार के प्रति सांत्वना प्रकट करता हूं और उन लोगों के प्रति भी संवेदना प्रकट करता हूं जिनकी जातिवाद और अन्याय कि वजह से मौत हो गयी।