IPL छोड़ मालदीव पहुंचे माइकल स्लेटर, देश में एंट्री न मिलने पर पीएम स्कॉट मॉरिसन पर बरसे, कहा—खून से रंगे हैं हाथ

IPL 2021 में कमेंट्री करने वाले पूर्व आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर टूर्नामेंट छोड़ पहुंचे मालदीव, पीएम स्कॉट मॉरिसन की आलोचना की

रिपोर्ट के अनुसार, स्लेटर मालदीव जाने से एक सप्ताह पहले अपने घर जाने की कोशिश कर रहे थे। वहीं ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने भारत में फंसे लगभग 9,000 ऑस्ट्रेलियाई लोगों के स्वदेश लौटने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों से आईपीएल में खेल रहे विदेशी खिलाड़ियों सहित अन्य स्टाफ भी चिंतित हो गए हैं और अपने देश वापस लौटना चाहते हैं। इस बीच कई खिलाड़ी आईपीएल टूर्नामेंट बीच में ही छोड़ रहे हैं। बता दें कि दो अंपायर्स ने भी आईपीएल से दूर बना ली है। अब IPL 2021 में कमेंट्री करने वाले पूर्व आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर माइकल स्लेटर, भारत में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच मालदीव पहुंच गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने अपने खिलाड़ियों के लिए स्वदेश वापसी का व्यवस्था नहीं करने पर आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की भी कड़ी आलोचना की। उन्होंने यहां तक कह दिया कि प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन पीएम का हाथ खून से रंगे हुए हैं। बता दें कि आईपीएल में खेल रहे खिलाड़ियों की वापसी को लेकर पीएम स्कॉट मॉरिसन ने कहा था कि वे अपने निजी दौरे पर भारत आए हैं, ऐसे में उन्हें स्वदेश वापसी की व्यवस्था खुद करनी होगी।

ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने लगाया स्वदेश लौटने पर प्रतिबंध
एक रिपोर्ट के अनुसार, स्लेटर मालदीव जाने से एक सप्ताह पहले अपने घर जाने की कोशिश कर रहे थे। वहीं ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने भारत में फंसे लगभग 9,000 ऑस्ट्रेलियाई लोगों के स्वदेश लौटने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इनमें आईपीएल में खेल रहे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स, सहायक स्टाफ और कमेंटेटर स्लेटर भी शामिल हैं। ऐसे में अब ऑस्ट्रेलियाई स्वदेशी वापसी को लेकर चिंतित हो गए हैं। स्लेटर भी ऑस्ट्रेलिया न जा पाने की वजह से मालदीव चले गए।

यह भी पढ़ें— IPL 2021: राजस्थान रॉयल्स का यह गेंदबाज कोरोना के खिलाफ लड़ाई में देगा अपने आईपीएल वेतन का 10 फीसदी हिस्सा

michael_slater.png

पीएम की आलोचना
स्लेटर एक ट्वीट करते हुए पीएम स्कॉट मॉरिसन की अलोचना की। स्लेटर ने लिखा कि अगर हमारी सरकार ऑस्ट्रेलियाई लोगों की सुरक्षा की चिंता करती, तो वे हमें घर लौटने की अनुमति देती। स्लेटर ने इसे अपमान बताया है। साथ ही स्लेटर ने लिखा कि प्रधानमंत्री के हाथ खून से रंगे हैं। वे हमारे साथ ऐसा व्यवहार कैसे कर सकते हैं। साथ ही उन्होंने लिखा कि उन्हें आइपीएल में काम करने के लिए सरकार की अनुमति मिली थी, लेकिन अब सरकारी उपेक्षा झेलनी पड़ रही है।

यह भी पढ़ें— फ्रंटलाइन वर्कर्स के सपोर्ट में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु IPL 2021 के शेष मैच खेलेगी नीली जर्सी पहनकर

इन लोगों को भी लिया आड़े हाथ
साथ ही स्लेटर ने कोरोना महामारी में आईपीएल के लिए भारत जाने पर सवाल करने वालों को भी आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जो लोग सोचते हैं कि यह एक पैसे की कवायद है तो इसे भूल जाओ। उन्होंने कहा कि यह वही है जो मैं जीवन यापन के लिए करता हूं और मैंने एक पैसा भी नहीं छोड़ा है। इसलिए कृपया दुरुपयोग को रोकें और प्रत्येक दिन भारत में होने वाली हजारों मौतों के बारे में सोचें।




Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here