IND vs AUS: हार्दिक पांड्या या मनीष पांडे किसको मिलनी चाहिए वनडे टीम में जगह? जानें गौतम गंभीर का जवाब

DA Image

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में खेले गए पहले वनडे मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए भारत को 66 रनों से हराया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से कप्तान आरोन फिंच और स्टीव स्मिथ ने शानदार सेंचुरी लगाई, जबकि एडम जम्पा ने गेंद से चार विकेट अपने नाम किए। गेंदबाजी में रन लुटाने के बाद भारत के बल्लेबाज भी इस मैच में कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सके। टीम की तरफ से हार्दिक पांड्या ने सबसे ज्यादा 90 रन बनाए, जबकि शिखर धवन ने 74 रनों की पारी खेली। वनडे सीरीज की शुरुआत होने से पहले प्लेइंग इलेवन में हार्दिक पांड्या और मनीष पांडे की जगह को लेकर काफी बहस चल रही है, कई दिग्गज क्रिकेटरों ने बतौर बल्लेबाजी नंबर छह पोजिशन के लिए मनीष पांडे का पक्ष लिया है। इसी बीच, गौतम गंभीर ने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

IND vs AUS: ऑस्ट्रेलिया का यह दिग्गज खिलाड़ी हुआ चोटिल, भारत के खिलाफ दूसरे वनडे में खेलना संदिग्ध

ईएसपीएन क्रिकइंफो की एक वीडियो में गंभीर ने बात करते हुए कहा, ‘मुझे लगता है कि इस बात का आईपीएल में फॉर्म से काफी लेना देना है, क्योंकि अगर आप देखेंगे तो हार्दिक नंबर छह पर बल्लेबाजी कर रहे थे, जबकि मनीष पांडे नंबर तीन पर। अगर आप पांडे को नंबर छह पर पुश करेंगे तो आपको उस खिलाड़ी को ड्रॉप करना पड़ेगा, जिसने आईपीएल में इस नंबर पर काफी अच्छी फॉर्म दिखाई है और यह बिल्कुल सही नहीं होगा। यह एक सही सवाल है कि क्या वह 50 ओवर की क्रिकेट में एक बल्लेबाज के तौर पर फिट बैठते हैं, लेकिन वही उनकी हालिया फॉर्म ने उनको नंबर छह पर खेलने का मौका दिया।’

INDvsAUS: जानें किसने कहा, भारत सभी फॉर्मेट में ऑस्ट्रेलिया से हारेगा

गंभीर ने कहा कि नंबर छह के स्थान पर पांड्या को जगह मिलनी चाहिए क्योंकि इस नंबर पर बड़े हिटर और मैच फिनिशर की जरूरत होती है और मनीष पांडे एक मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज हैं, जिनका कॉम्पिटेशन श्रेयस अय्यर और केएल राहुल जैसे बल्लेबाजों से है। उन्होंने कहा, ‘यह बैटिंग पोजिशन की भी बात है। अगर श्रेयस अय्यर अच्छा नहीं कर रहे हैं, तो आप मनीष पांडे जैसे बल्लेबाज को नंबर चार पर बल्लेबाजी करवा सकते हैं, लेकिन अगर नंबर छह की बात आती है तो मैं हार्दिक पांड्या के साथ जाना पसंद करूंगा।’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here