शादी को टूटने से बचाने के लिए करना चाहते हैं अंतिम प्रयास तो इन बातों पर दें ध्यान

पहल करनी है जरुरी


पहल करनी है जरुरी

लोगों की ये आदत होती है कि जब आपस में रिश्ते बिगड़ने लगते हैं तो वो अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के सामने अपने पार्टनर की बुराई करना शुरू कर देते हैं। आप इसकी जगह दूसरों के सामने अपने पार्टनर की खूबियां बताएं और उनकी तारीफ करें। आपने उनकी इन्हीं क्वालिटी को देखकर पूरा जीवन साथ बिताने का फैसला किया था। अब दूसरों के सामने उनकी छवि बिगाड़ने का काम न करें।

रोमांस न हो कम

शादी के बाद जब वक्त बितने लगता है तो लोगों को अपना जीवन नीरस लगने लगता है। आप अपनी शादीशुदा लाइफ से रोमांस कम न होने दें। एक दूसरे की तारीफ करें। रिश्ते की गर्माहट कई दिक्कतों को पार करने में मदद करती है।

अपनी उम्मीदें करें कम

अपनी उम्मीदें करें कम

शादी के बाद अपने पार्टनर से उम्मीदें लगाना लाजमी है। लेकिन यदि आपका साथी आपके अनुसार भूमिका का निर्वाह नहीं कर पा रहा है तो उसका सपोर्ट करें न कि तलाक लेने का मन बना लें। हर इंसान परफेक्ट नहीं होता है। रिश्तों में ढलने और स्थिति को समझने में सब अपने मुताबिक समय लेते हैं। आप अपनी उम्मीदों के लेवल को थोड़ा कम करें और उनका साथ दें।

रिश्ते में प्यार, सम्मान और सहानुभूति

रिश्ते में प्यार, सम्मान और सहानुभूति

शादी के बाद पति पत्नी के बीच प्यार और सम्मान होना बहुत अच्छी बात है। मगर इसके साथ आप दोनों के दिल में एक दूसरे के लिए सहानुभूति का भाव होना भी जरुरी है। दिनभर के कामकाज के बाद आप दोनों ही थका महसूस करेंगे या फिर घर में मेहमानों के जाने के बाद दोनों ही आराम करना चाहेंगे। ऐसी स्थिति में यदि कोई एक ज्यादा थका हुआ है तो उसे आराम करने दें और दूसरा घर के बचे हुए जरुरी काम पूरा कर ले।

Source link