Honda Cars इंडिया ने बड़ी संख्या में कार को किया ​रिकॉल, जाने पूरी डिटेल्स

Facebook


दुनिया की जानी मानी वाहन निर्माता कंपनी Honda Cars इंडिया ने साल 2018 में बनी 65,651 गाड़ियों को रिकॉल किया है. कंपनी ने यह रिकॉल फ्यूल पंप्स में आई खराबी के चलते किया है. इन वाहनों में स्थापित फ्यूल पंपों में खराब impellers शामिल हो सकते हैं जो संभवत: इंजन को बंद करने और बिल्कुल भी स्टार्ट ने करने के परिणामस्वरूप हो सकते हैं. इनमें Hona अपनी Amaze की 32,498 यूनिट्स, City की 16,434 यूनिट्स, Jazz की 7500 यूनिट्स, WR-V की 7057 यूनिट्स, BR-V की 1622 यूनिट्स, Brio की 360 यूनिट्स और CR-V की 180 यूनिट्स शामिल हैं.

कोरोना के खतरे को समाप्त कर सकते है रोबोट, जानें कैसे

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि 20 जून से शुरू होने वाले चरणबद्ध तरीके से पूरे भारत में Honda डीलरशिप पर प्रतिस्थापन मुफ्त किया जाएगा और मालिकों द्वारा कंपनी से व्यक्तिगत रूप से संपर्क किया जाएगा. इसका मतलब कंपनी वर्तमान में लिमिटेड स्टाफ द्वारा सेफ्टी और सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए काम कर रही है. ग्राहकों को असुविधा से बचने के लिए पूर्व नियुक्ति के साथ सर्विस सेंटर का दौरा करने की सलाह दी जाएगी. वही, ऐसे में ग्राहकों के पास यह जांचने का भी विकल्प है कि क्या उनकी कार इस अभियान के तहत कवर की गई है, जो कि कंपनी के आधिकारिक वेबसाइट पर बनाए गए विशेष माइक्रोसाइट पर अपने 17 वर्ण अल्फा-न्यूमेरिक व्हीकल आइडेंटिफिकेशन नंबर (VIN) जमा कर रहे हैं.

इस कंपनी ने भारत में मारी एंट्री, मैनेजिंग डायरेक्टर ने कही यह बात

इसके अलावा हाल ही में Honda cars India ने कोरोनावायरस महामारी के दौरान ग्राहकों के लिए डोर स्टेप असिस्टेंट प्रोग्राम पेश किया है. देशभर में कोरोनावायरस के चलते हुए लॉकडाउन की वजह से मार्च से कई वाहन खड़े हुए हैं और चल नहीं पाएं हैं. ऐसे में अब सरकार द्वारा छूट मिलने के बाद ग्राहक अपने वाहनों को चलाने के लिए तैयार हो रहे हैं. ऐसे में यह देखना बहुत ज्यादा जरूरी है कि वाहन चलाने के लिए स्थिति में या नहीं और वह कितने ज्यादा फिट हैं. परेशानी मुक्त कार्य के लिए होंडा कार लोगों को घरों पर ही उन्हें यह सुविधा उपलब्ध करवा रही है. इसमें कई तरह के बुनियादी सर्विस और जांच शामिल है.

Triumph Bonneville ने दो पावरफुल बाइक की लॉन्च, ये है ख़ास फीचर

मारुति की किफायती कार को सस्ते दामों में खरीदने का सुनहरा मौका

वाहनों के रजिस्ट्रेशन में आई भारी गिरावट, जानें क्या है कारण