Google Maps आये नए फीचर्स, मिलेगी यह जानकारी

Facebook


दिग्गज सर्च कंपनी गूगल ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को ध्यान में रखकर गूगल मैप्स के लिए नए फीचर जारी किए हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें की यूजर्स इन फीचर्स के जरिए यात्रा के दौरान यह पता लगा सकेंगे कि किस जगह पर संक्रमण के कारण प्रतिबंध लगा है। इसके साथ ही यूजर्स इन फीचर्स से यह भी जान सकेंगे कि किस स्टेशन पर कितनी भीड़ है और कौन-सी ट्रेन या बस कितनी देरी से चल रही है। 

वहीं, कंपनी का कहना है कि यूजर्स इन फीचर्स की सहायता से सोशल डिस्टेंसिंग को भी कायम रख सकेंगे।आपकी जानकारी के लिए बता दें की कंपनी के ब्लॉग पोस्ट में दी गई जानकारी के अनुसार , गूगल मैप्स के इन ट्रांसिट अलर्ट फीचर्स को जल्द अर्जेंटीना, फ्रांस, भारत, अमेरिका, यूके समेत अन्य देशों में लॉन्च किया जाएगा। इसके अलावा गूगल मैप्स में कई अन्य फीचर्स भी जोड़े गए हैं, जो यूजर्स को कोविड-19 चेक प्वाइंट्स की जानकारी प्रदान करते हैं।

 फिलहाल, यह फीचर्स कनाडा, मैक्सिको और अमेरिका में एक्टिव हैं। हाल ही में गूगल ने 131 देशों के यूजर्स के लोकेशन डाटा का विश्लेषण किया था।आपकी जानकारी के लिए बता दें की कंपनी ने यह जानने की कोशिश की थी कि क्या लोग लॉकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और तमाम गाइडलाइन का पालन कर रहे हैं या नहीं। आपको बता दें कि कंपनी ने सर्च विज्ञापन का कारोबार में अरबों डॉलर का निवेश किया था।

दिग्गज सर्च कंपनी गूगल ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को ध्यान में रखकर गूगल मैप्स के लिए नए फीचर जारी किए हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें की यूजर्स इन फीचर्स के जरिए यात्रा के दौरान यह पता लगा सकेंगे कि किस जगह पर संक्रमण के कारण प्रतिबंध लगा है। इसके साथ ही यूजर्स इन फीचर्स से यह भी जान सकेंगे कि किस स्टेशन पर कितनी भीड़ है और कौन-सी ट्रेन या बस कितनी देरी से चल रही है। 

वहीं, कंपनी का कहना है कि यूजर्स इन फीचर्स की सहायता से सोशल डिस्टेंसिंग को भी कायम रख सकेंगे।आपकी जानकारी के लिए बता दें की कंपनी के ब्लॉग पोस्ट में दी गई जानकारी के अनुसार , गूगल मैप्स के इन ट्रांसिट अलर्ट फीचर्स को जल्द अर्जेंटीना, फ्रांस, भारत, अमेरिका, यूके समेत अन्य देशों में लॉन्च किया जाएगा। इसके अलावा गूगल मैप्स में कई अन्य फीचर्स भी जोड़े गए हैं, जो यूजर्स को कोविड-19 चेक प्वाइंट्स की जानकारी प्रदान करते हैं।

 फिलहाल, यह फीचर्स कनाडा, मैक्सिको और अमेरिका में एक्टिव हैं। हाल ही में गूगल ने 131 देशों के यूजर्स के लोकेशन डाटा का विश्लेषण किया था।आपकी जानकारी के लिए बता दें की कंपनी ने यह जानने की कोशिश की थी कि क्या लोग लॉकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और तमाम गाइडलाइन का पालन कर रहे हैं या नहीं। आपको बता दें कि कंपनी ने सर्च विज्ञापन का कारोबार में अरबों डॉलर का निवेश किया था।