Diwali 2020 : दिवाली पर इन चीजों को कभी न करें दान, नहीं तो आपके घर में हो जाएगा दरिद्रता का वास

1604057804 5f9bfacc0177c

Diwali 2020 : दिवाली का पर्व 14 नवंबर 2020 (Diwali Festival 14 November 2020) को मनाया जाएगा। इस दिन भगवान श्री राम अयोध्या वापस आए थे और अयोध्यावासियों ने उनका दीए जलाकर स्वागत किया था। माना जाता है कि दिवाली (Diwali) के दिन दिया गया दान कई गुना लाभ देता है।लेकिन दिवाली के दिन कुछ चीजों का दान बहुत ही अशुभ माना जाता है तो आइए जानते हैं कि आपको दिवाली के दिन किन चीजों का दान नहीं करना चाहिए।

दिवाली पर इन चीजों का दान न करें (Diwali Per In Chizo Ka Na Kare Daan)

1.दिवाली के दिन झाडू का दान बिल्कुल भी न करें। क्योंकि झाडू को मां लक्ष्मी का स्वरूप माना जाता है। अगर आप झाडू का दान करते हैं तो आप मां लक्ष्मी को अपने आपसे दूर कर रहे हैं।

2. दिवाली के दिन खिचड़ी आदि का दान करना निषेध माना जाता है। क्योंकि इस दिन न तो कच्चा भोजन खाया जाता है और न ही उसका दान किया जाता है।

3. दिवाली के दिन भगवान गणेश और मां लक्ष्मी का पूजन करने के बाद प्रसाद को बाहर के लोगों में बिल्कुल भी न बांटे और न हीं किसी को दान में दें। । बाहर बांटने के लिए अलग से प्रसाद रखें।

4.दिवाली के दिन सरसों के तेल का दान न करें। इस बात का आपको विशेष ध्यान रखना है। क्योंकि तेल का दान देने से आपके यहां से लक्ष्मी जी चली जाएंगी।

5. दिवाली के दिन किसी को भी नारियल, बादाम आदि का भी दान बिल्कुल भी न करें। क्योंकि यह सभी वस्तुएं मां लक्ष्मी का प्रतीक मानी जाती हैं।

6. दिवाली के दिन किसी भी व्यक्ति को धन का दान न दें। इस दिन कुछ वस्तु खरीद कर दान कर सकते हैं। लेकिन इस दिन भूलकर भी पैसों का दान बिल्कुल भी न करें।

7. दिवाली के दिन चावल और दूध से बनी से चीजों का भी दान आपको बिल्कुल नहीं करना चाहिए। क्योंकि सफेद वस्तुओं को मां लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है।

8. दिवाली के दिन किसी को भी रेशम के कपड़े का दान न करें। क्योंकि दिवाली के दिन रेशम के कपड़े का दान करने से उस व्यक्ति के लिए यह दान अपशकुन का कार्य करता है।

9.दिवाली के दिन किसी को भी गलती से भी भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की मूर्ति दान न करें। क्योंकि ऐसा करने से घर की लक्ष्मी के साथ आपकी सुख और शांति भी दूसरे व्यक्ति के पास चली जाती है।

10.दिवाली के दिन किसी को भी लकड़ी से बनी वस्तु दान में न दें। अगर आप ऐसा करते हैं तो यह न केवल आपके लिए बल्कि दूसरों के लिए भी अपशकुन का कार्य करेगा।