BJP के खिलाफ LJP ने बिहार चुनाव में उतार ही दिया उम्मीदवार, बताई ये वजह ?

BJP के खिलाफ LJP ने बिहार चुनाव में उतार ही दिया उम्मीदवार, बताई ये वजह ?

बिहार चुनाव में बीजेपी से अलग होने के बाद लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान ने ऐलान किया था कि वह बीजेपी के खिलाफ चुनावी मैदान में उम्मीदवार नहीं उतारेंगे। मगर मंगलवार को जारी लोजपा की उम्मीदवारों की लिस्ट में एक ऐसा नाम था जो बीजेपी के खिलाफ चुनावी मैदान में उतारा गया है। यह लोजपा के मौजूदा विधायक राजू तिवारी हैं जो भाजपा के खिलाफ गोविंदगंज विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ेंगे।

इस संबंध में लोजपा का कहना है कि गोविंदगंज हमारी सिटिंग सीट है और राजू तिवारी पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं। ऐसे में हम वह सीट नहीं छोड़ सकते हैं। आपको बता दें कि लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने सोमवार को कहा था कि बिहार में अगली सरकार भाजपा के नेतृत्व में बनेगी, जिसमें लोजपा भी शामिल रहेगी। लोजपा के सभी विधायक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में काम करेंगे।

आपको बता दें कि लोजपा चुनाव में जदयू के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारेगी। पर पार्टी लगातार यह दोहरा रही है कि भाजपा के साथ उसका गठबंधन जारी रहेगा। लोजपा 143 सीट पर चुनाव लड़ने की बात आरंभ से ही करती रही है। नवादा से सांसद चंदन सिंह ने कहा कि लोजपा जदयू से अलग चुनाव लड़ेगी और बड़ी संख्या में सीट जीतकर विधानसभा पहुंचेगी।

गौरतलब हो कि लोजपा ने एलान किया है कि वह विधानसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवारों के खिलाफ अपना प्रत्याशी नहीं उतारेगी। अब यह भी बताया जा रहा है कि कुछ सीटों पर वह भाजपा के साथ फ्रेंडली फाइट भी करेगी। लोजपा के एक और विधायक राजकुमार साह लालगंज से विधायक हैं और यह सीट भी एनडीए के तहत भाजपा को मिली है। ऐसे में यहां पर लोजपा क्या करेगी, यह आगे तय होगा।

इधर लोजपा ने अपने उम्मीदवारों को सिंबल देना शुरू कर दिया है। लोजपा प्रदेश अध्यक्ष प्रिंसराज भी स्वयं कुछ के सिंबल लेकर दिल्ली से रात में पटना पहुंचे। पहले चरण का चुनाव जिन सीटों पर है, वहां पर लोजपा के प्रत्याशी सात और आठ को नामांकन दाखिल करेंगे।