Bihar Elections 2020:…ज्यादा देशद्रोही कहोगे, तो चला जाऊंगा BJP में- पूर्व JNU छात्र कन्हैया कुमार का कटाक्ष

Bihar Elections 2020:…ज्यादा देशद्रोही कहोगे, तो चला जाऊंगा BJP में- पूर्व JNU छात्र कन्हैया कुमार का कटाक्ष

कन्हैया ने कहा कि इस बार चुनाव में लोग ऐसे नेताओं को चुने जो बाद में बदले नहीं। पहले लोग कहते थे कि ईवीएम हैक होता है लेकिन अब तो यहां भाजपा सीएम को ही हैक कर रही है।

सीपीआई नेता और जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने बिहार चुनाव में प्रचार की कमान संभाल ली है। बखरी और तेघड़ा सीट से सीपीआई उम्मीदवारों ने सोमवार को नामांकन किया। इस दौरान कन्हैया कुमार भी मौजूद रहे। नामांकन के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए कन्हैया ने कहा कि 2015 के चुनाव में लोगों ने जदयू, राजद और कांग्रेस के महागठबंधन को वोट दिया था और नीतीश कुमार सीएम बने थे लेकिन भाजपा ने सीएम को ही हैक कर लिया।

कन्हैया ने कहा कि इस बार चुनाव में लोग ऐसे नेताओं को चुने जो बाद में बदले नहीं। पहले लोग कहते थे कि ईवीएम हैक होता है लेकिन अब तो यहां भाजपा सीएम को ही हैक कर रही है। भाजपा पर तंज कसते हुए कन्हैया ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया जब कांग्रेस में थे तब उन्हें खराब कहा जाता था। जैसे ही वो भाजपा में गए वो शुद्ध हो गए। हमने भी कहा है…ज्यादा देशद्रोही-देशद्रोही कहोगे तो हम भी भाजपा में शामिल हो जाएंगे और फिर मेरे ऊपर लगाए गए सारे इल्जाम खत्म हो जाएंगे।

बता दें कि बेगूसराय की बखरी और तेघड़ा सीट गठबंधन के तहत सीपीआई के खाते में गई हैं। जिस पर पार्टी ने बखरी से सूर्यकांत पासवान और राम रतन सिंह को उम्मीदवार बनाया है। कन्हैया कुमार ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि अब जनता समझ चुकी है और वह विकास के मुद्दों पर वोट करेगी ना कि जुमलेबाजों की जुमलेबाजी से प्रभावित होकर मतदान करेगी।

बता दें कि कन्हैया कुमार सीपीआई के स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल हैं। पार्टी ने हाल ही में अपने 30 स्टार प्रचारकों की जो सूची जारी की है, उनमें पार्टी महासचिव डी. राजा, कन्हैया कुमार और पार्टी के बिहार सचिव रामनरेश पांडेय का नाम सबसे ऊपर है।

कन्हैया कुमार ने हाल ही में अपने एक ट्वीट में प्रधानमंत्री के लिए हजारों करोड़ रुपए का विमान खरीदने के लिए भी सरकार को आड़े हाथों लिया। कन्हैया ने ट्वीट में लिखा कि “जहां के मजदूर हजारों किलोमीटर पैदल चलते हों और उनके प्रधानसेवक आठ हजार करोड़ के विमान से उड़ते हों, ये गर्व का नहीं शर्म का विषय है।” बता दें कि हाल ही में प्रधानमंत्री के विदेशी दौरों के लिए एक आधुनिक विमान खरीदा गया है।