89 वर्षीय डॉक्टर बना 49 बच्चों का बाप, IVF के नाम पर करता था धोखाधड़ी

89 वर्षीय डॉक्टर बना 49 बच्चों का बाप, IVF के नाम पर करता था धोखाधड़ी

नई दिल्ली: कई महिलाएं In Vitro Fertiliation यानी IVF के जरिए मां बनने का सुख हासिल करती हैं। दरअसल यह ऐसी चिकित्सीय प्रणाली है जिसमें कई बार महिलाएं स्पर्म डोनर की मदद से गर्भवती होती हैं। नीदरलैंड में एक IVF सेंटर के डॉक्टर ने IVF के नाम पर महिलाओं को खूब धोखा दिया। महिलाओं को धोखा देकर यह डॉक्टर 49 बच्चों का पिता भी बन गया। ‘डिफेंस फॉर चिल्ड्रेन’ नाम के एक संगठन ने इस आईवीएफ सेंटर के चिकित्सक के डीएनए का जब टेस्ट कराया तो पता चला कि यह डॉक्टर 49 बच्चों का पिता है।

निज्जेमेजन शहर के अस्पताल के इस चिकित्सक का नाम जेन करबैट है। बीते शुक्रावर को 12 अप्रैल, 2019 को जेन करबैट का डीएनए टेस्ट किया गया है। यह भी पता चला है कि जेन करबैट अपने क्लिनिक में अपने ही स्पर्म का इस्तेमाल करता था और यहां आने वाली महिलाओं के साथ धोखाधड़ी करता था।

साल 2009 में जेन करबैट के अस्पताल पर कई गड़बड़ियों के आरोप लगे थे, जिसके बाद इस अस्पताल को बंद कर दिया गया था। इतना ही नहीं साल 2017 में जेन करबैट की मौत भी हो चुकी है। अपनी मौत से पहले 89 साल के करबैट ने खुद भी माना ता कि वो 60 बच्चों का पिता है। फरवरी के महीने में डच की अदालत ने यह आदेश दिया ता कि करबैट का डीएनए टेस्ट पैरेट्स और पीड़ित बच्चों के लिए उपलब्ध कराया जाए ताकि इन सभी को सही जानकारी मिल सके।

कोर्ट के आदेश के बाद उसका यह डीएनए टेस्ट रिपोर्ट सार्वजनिक हो सका। हालांकि करबैट के वकीलों ने तर्क दिया कि उनके क्लाइंट के निजता के अधिकार का सम्मान किया जाना चाहिए। लेकिन जज ने बच्चों के अधिकार को निजता के अधिकार से ऊपर रखते हुए डीएनए रिपोर्ट बच्चों और उनके परिवार को साझा करने का फैसला सुनाया।