5-स्टार रेटिंग वाला AC बिजली बचाता नहीं 28 फीसदी ज्यादा खपाता है

5-स्टार रेटिंग वाला AC बिजली बचाता नहीं, 28 फीसदी ज्यादा खपाता है

5-स्टार रेटिंग वाला AC बिजली बचाता नहीं 28 फीसदी ज्यादा खपाता है : अगर आप सोच रहे है कि 5 स्टार रेटिंग वाना एसी ले लेंगे तो बिजली की बचत होगी, तो एक बार विचार उम्र लें । सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरमेंट (सीएसई) ने दावा क्रिया है कि 5 -स्टार एसी के नाम पर धोखा हो रहा है । कंपनियों द्वारा 5 -स्टार रेटिंग वाले एसी को बिजली बचाने वाना बताया जाता है

सीएसई के अनुसार मु-स्टर रेटिंग वाला एसी गर्मी  में 1-स्टार एसी की तरह काम करता है। यानी कि बिजली नहीं बचाता बल्कि 28 प्रतिशत ज्यादा खर्च करता है। सीएसई की रिपोर्ट के मुताबिक बाहर का तापमान 40 के पार जाते ही आपका 5-स्टार एसी भी 2-स्टार एसी जितनी बिजली खाने लगता है।

वहीं बाहर का तापमान 45 के पार जाते ही आपका 5-स्टार एसी 1-स्टार एसी जितनी बिजली खाने लगता है। ज्यादा बिजली खाने से मतलब आपके बिजली का बिल बढ़ा देता है। सीएसई की रिपोर्ट के मुताबिक, 5-स्टार एसी खरीदने में ज्यादा पैसे लगते हैं। 5-स्टार एसी ज्यादा गर्मी में कम ठंडक देता है। कम ठंडक देने के साथ-साथ ज्यादा बिजली खाकर आपका का बिल बढ़ाता है।

सीएसई ने कराया था तीन बड़ी कंपनियों पर सर्वे

स्टार रेटिंग देने का काम ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफीसिएंसी करती है। 5-स्टार एसी 20-22 फीसदी बिजली बचाने का दावा करता है। लेकिन हकीकत में ज्यादा गर्मी हो तो 28 प्रतिशत तक ज्यादा बिजली खर्च करता है। कमरे को ठंडा करने की क्षमता 30 प्रतिशत कम हो जाती है। 1.5 टन वाला एसी 1-टन वाले एसी की तरह काम करता है।

सीएसई ने वोल्टास, एलजी और गोदरेज के तीन मॉडल्स को लेकर 5-स्टार एसी पर रिपोर्ट तैयार की है। बाजार में 50 फीसदी एसी इन्हीं तीन कंपनियों के बिकते हैं।

Follow करें और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here