1021 सूर्य नमस्कार के साथ योग गुरु शम्मी गुप्ता की टीम ने मनाया इंटरनेशनल योगा डे!

1021 सूर्य नमस्कार के साथ योग गुरु शम्मी गुप्ता की टीम ने मनाया इंटरनेशनल योगा डे! (International Yoga Day: 1021 Surya Namaskar Done By Yoga Guru Shammi Gupta's Students)

1021 सूर्य नमस्कार के साथ योग गुरु शम्मी गुप्ता की टीम ने मनाया इंटरनेशनल योगा डे!  : इंटरनेशनल योगा डे के ख़ास मौ़के पर जानीमानी योग गुरु शम्मी गुप्ता ने मुंबई में सूर्याथॉन का आयोजन किया. इस सूर्याथॉन में हर उम्र के लोगों ने भारी संख्या में हिस्सा लिया और सुबह पांच बजे से अपने सामर्थ्य के अनुसार सूर्य नमस्कार किए. इस सूर्याथॉन की सबसे ख़ास बात ये थी कि इसमें शम्मी गुप्ता की टीम के स्टूडेंट्स नुपूर बिस्वास, किश्‍लय कुमार, राजीव कुमार और प्रिया गुप्ता ने 1021 बार सूर्य नमस्कार का रिकॉर्ड बनाया.

6 महीने पहले से शुरू की प्रैक्टिस
शम्मी गुप्ता की स्टूडेंट नुपूर बिस्वास ने बताया कि इन सभी स्टूडेंट्स ने इंटरनेशनल योगा डे के मौके पर 1021 बार सूर्य नमस्कार करने की प्रैक्टिस 6 महीने पहले से ही शुरू कर दी थी. शम्मी गुप्ता ने अपने स्टूडेंट्स का हौसला बढ़ाया और उन्हें 1021 बार सूर्य नमस्कार करने के लिए तैयार किया. नुपूर बिस्वास ने हमें बताया कि वो पिछले 8 सालों से शम्मी के साथ लगातार योगा की प्रैक्टिस कर रही हैं. उन्होंने धीरे-धीरे प्रैक्टिस करके सूर्य नमस्कार की संख्या बढ़ाई. 6 महीने पहले उन्होंने 108 बार से प्रैक्टिस शुरू की और धीरे-धीरे इसकी संख्या बढ़ाती गईं. इसके साथ ही वो नियमित रूप से योगा भी कर रही थीं.

Yoga Guru Shammi Gupta

एक हफ्ते पहले क्या प्रैक्टिस की?
पिछले हफ्ते से इन स्टूडेंट्स ने सूर्य नमस्कार की प्रैक्टिस नहीं की, स़िर्फ स्ट्रेचिंग, स्ट्रेंथनिंग पोश्‍चर किए, ताकि शरीर फ्लैक्सिबल बना रहे, लेकिन कोई शरीर में कोई चोट न लगे, वरना सूर्य नमस्कार करना मुश्किल हो जाता है.
पिछले दो दिनों से ये सभी स्टूडेंट्स अपनी डायट में ज़्यादा से ज़्यादा कार्बोहाइड्रेट (चावल, आलू वगैरह) ले रहे हैं, ताकि उनके शरीर में एनर्जी बनी रहे.

क्या आप भी सूर्य नमस्कार की प्रैक्टिस करना चाहते हैं?
योग से आप अपनी ज़िंदगी बदल सकते हैं. योग से आप न स़िर्फ अपने शरीर को स्वस्थ बना सकते हैं, बल्कि मानसिक और बौद्धिक रूप से भी ख़ुद को बेहतर बना सकते हैं. यदि आप भी योग व सूर्य नमस्कार की प्रैक्टिस करना चाहते हैं, तो पहले किसी अच्छे योग गुरु के साथ इसकी प्रैक्टिस करें. धीरे-धीरे आपके शरीर की क्षमता बढ़ने लगेगी और योग आपके जीवन में अपने आप शामिल होता जाएगा. इंटरनेशनल योगा डे के इस ख़ास अवसर से आप भी योग की शुरुआत कीजिए और ख़ुद को दीजिए स्वस्थ जीवन का तोहफ़ा!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here