सनकी शासक किम जोंग PM मोदी या भारत से क्यों नहीं उलझता, यहाँ जानिए

41bf1b34353d2bb0212341fcceed88e7?source=nlp&quality=uhq&format=webp&resize=720

किम जोंग उन की गिनती दुनिया के सबसे क्रूर तानाशाओं में होती है। उसने अपने ही परिवार में अपने भाई, चाचा, फूफा और बुआ को जान से मरवा दिया। अगर नॉर्थ कोरिया में कोई किम के निर्देश को नहीं मानता है तो उसकी सजा भी मौत ही होती है।

किम जोंग उन जापान, अमेरिका के खिलाफ बोलता है और उसने कई नुक्लिएर मिसाइल और वेपन भी बना रखे हैं जो पूरी दुनिया में सबसे शक्तिशाली है। इनका रुख भी किम जोंग ने अमेरिका, जापान आदि की तरफ ही कर रखा है। तो आखिर किम जोंग कभी भारत या पीएम मोदी के खिलाफ क्यों नहीं बोलता है? ना भारत से उलझना चाहता है? इस बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

41bf1b34353d2bb0212341fcceed88e7 1?source=nlp&quality=uhq&format=webp&resize=720

इसके कुछ कारण है।

2018 में भारत के विदेश राज्य मंत्री का नॉर्थ कोरिया में दौरा

साल 2018 में हर एक देश नॉर्थ कोरिया के खिलाफ बोल रहा था क्योकिं उसने अपनी मिसाइलें जापान और अमेरिका की तरफ मोड़ रखी थी तब तत्कालीन राज्य विदेश मंत्री वीके सिंह ने नॉर्थ कोरिया का दौरा किया था। ये उत्तर कोरिया के लिए एक नाजुक दौर था और पूरी दुनिया में उसकी थूथू हो रही थी। तब वीके सिंह ने यहाँ का दौरा किया। पिछले 20 सालों में पहली बार भारत के किसी बड़े मंत्री ने उत्तर कोरिया का दौरा किया था।

शीत युद्ध के दौरान भारत गुटनिरपेक्ष रहा

शीत युद्ध में भारत गटनिरपेक्ष रहा। भारत उत्तर कोरिया के साथ अच्छे संबंध रखता है जबकि अमेरिका नहीं रखता है। पूरी दुनिया में पश्चिमी देश उत्तर कोरिया से अच्छे संबंध नहीं रखते हैं जबकि भारत के सभी देशों के साथ अच्छे संबंध है।

41bf1b34353d2bb0212341fcceed88e7 2?source=nlp&quality=uhq&format=webp&resize=720

चीन के बाद भारत उत्तर कोरिया का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार

जानकारी के लिए आपको बता दें कि चीन के बाद सबसे अधिक निर्यात भारत से करता है। नॉर्थ कोरिया के कुल निर्यात में 3.5 फीसदी हिस्सा भारत का निर्यात है। जबकि आयात का हिस्सा 3.1 फीसदी है। दूसरे शब्दों में कहें तो उत्तर कोरिया भारत को 9.7 करोड़ डॉलर का सामन बेचता है और तकरीबन इतनी ही कीमत का सामन खरीदता भी है।

भारत क्यों बना रहा उत्तर कोरिया के साथ अच्छे रिश्ते?

भारत हालाकिं उत्तर कोरिया के परमाणु निति के खिलाफ रहा है और 1990 से उत्तर कोरिया को परमाणु मुक्त देश बनाने की मांग कर रहा है। लेकिन भारत के रिश्ते उत्तर कोरिया से अच्छे हैं। इसका कारण है कि उत्तर कोरिया में प्राकृतिक संसाधन जैसे कोयला आदि प्रचुर मात्रा में हैं और इसका लाभ भारत को मिलता रहे। दूसरा पाकिस्तान को अलग थलग करने के लिए भी भारत नॉर्थ कोरिया से अच्छे रिश्ते बना रहा है।