वियतनाम में होगा सैमसंग के डिस्प्ले का प्रोडक्शन

Facebook


पहले कोरोना वायरस और फिर भारत-चीन सीमा विवाद के बाद चीन के प्रति दुनिया का नजरिया बदल रहा है। तमाम कंपनियां चीन से अपना बाजार समेट रही हैं। इसी कड़ी में खबर है कि सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स भी अपने डिस्प्ले प्रोडक्शन को चीन से वियतनाम ले जाने की तैयारी कर रहा है, हालांकि सैमसंग ने इस मामले में अभी तक कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है।सैमसंग वियतनाम का सबसे बड़ा निवेशक है। सैमसंग का वियतनाम में कुल 17 बिलियन डॉलर्स यानी करीब 1.29 लाख करोड़ रुपये का निवेश है। 

ताइवान के अखबार Tuoi Tre ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सैमसंग वियतनाम को अन्य दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के लिए एक महत्वपूर्ण प्रवेश द्वार और अपनी वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में एक कड़ी के रूप में देखता है। इस कदम से वियतनाम सैमसंग की स्क्रीन का सबसे बड़ा सप्लायर होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि सैमसंग की स्क्रीन का उत्पादन हो ची मिन्ह सिटी में सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स कॉम्प्लेक्स में होगा जो कि वियतनाम का बिजनेस हब कहा जाता है। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दक्षिण कोरियाई कंपनी सैमसंग पहले से ही डिस्प्ले का प्रोडक्शन वियतनाम में कर रही है। वियतनाम में सैमसंग की छह फैक्ट्रीज, दो रिसर्च सेंटर्स और एक डेवलपमेंट सेंटर है।गौरतलब है इससे पहले एक रिपोर्ट में दावा किया है कि एपल के सभी आईफोन एसई 2020 जल्द ही मेड इन इंडिया होंगे। इसके लिए ताइवान की एक कंपनी से बात चल रही है जो पार्ट्स की सप्लाई भारत में करेगी। एपल के इस कदम से कंपनी को 20 फीसदी आयात शुल्क नहीं देना होगा।

पहले कोरोना वायरस और फिर भारत-चीन सीमा विवाद के बाद चीन के प्रति दुनिया का नजरिया बदल रहा है। तमाम कंपनियां चीन से अपना बाजार समेट रही हैं। इसी कड़ी में खबर है कि सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स भी अपने डिस्प्ले प्रोडक्शन को चीन से वियतनाम ले जाने की तैयारी कर रहा है, हालांकि सैमसंग ने इस मामले में अभी तक कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है।सैमसंग वियतनाम का सबसे बड़ा निवेशक है। सैमसंग का वियतनाम में कुल 17 बिलियन डॉलर्स यानी करीब 1.29 लाख करोड़ रुपये का निवेश है। 

ताइवान के अखबार Tuoi Tre ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सैमसंग वियतनाम को अन्य दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के लिए एक महत्वपूर्ण प्रवेश द्वार और अपनी वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में एक कड़ी के रूप में देखता है। इस कदम से वियतनाम सैमसंग की स्क्रीन का सबसे बड़ा सप्लायर होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि सैमसंग की स्क्रीन का उत्पादन हो ची मिन्ह सिटी में सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स कॉम्प्लेक्स में होगा जो कि वियतनाम का बिजनेस हब कहा जाता है। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दक्षिण कोरियाई कंपनी सैमसंग पहले से ही डिस्प्ले का प्रोडक्शन वियतनाम में कर रही है। वियतनाम में सैमसंग की छह फैक्ट्रीज, दो रिसर्च सेंटर्स और एक डेवलपमेंट सेंटर है।गौरतलब है इससे पहले एक रिपोर्ट में दावा किया है कि एपल के सभी आईफोन एसई 2020 जल्द ही मेड इन इंडिया होंगे। इसके लिए ताइवान की एक कंपनी से बात चल रही है जो पार्ट्स की सप्लाई भारत में करेगी। एपल के इस कदम से कंपनी को 20 फीसदी आयात शुल्क नहीं देना होगा।