विभागों द्वारा अभिमत के पश्चात दूरसंचार टावरों के लिए दी जाएगी अनुमति जिला स्तरीय दूरसंचार समिति की बैठक संपन्न

जिला स्तरीय दूरसंचार समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सोमवार को संपन्न हुई। कलेक्टर श्री गोपालचंद्र डाड की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में उन आवेदनों पर विचार किया गया जो दूरसंचार कंपनियों द्वारा शहर तथा अन्य स्थानों पर टावर लगाने के लिए दिए गए हैं।

बैठक में विभिन्न दूरसंचार कंपनियों के द्वारा टावर लगाने के लिए ऑनलाइन किए गए 10 आवेदनों पर विचार किया गया। विचार-विमर्श पश्चात कलेक्टर ने निर्देश दिए कि सभी संबंधित विभाग शासकीय नियम अनुसार अपने अभिमत देवें ताकि संबंधित कंपनियों को टावर स्थापना की एनओसी दी जा सके। नगर निगम आयुक्त श्री सोमनाथ झारिया ने बताया कि उनके द्वारा परीक्षण सत्यापन पश्चात एक सप्ताह में अपना अभिमत दिया जाएगा। कलेक्टर श्री गोपालचन्द्र डाड ने निर्देशित किया कि कंपनियां दूरसंचार टावरों से उत्पन्न होने वाले रेडिएशन से नागरिकों के स्वास्थ्य की सुरक्षा हेतु उपाय सुनिश्चित करें। रेडिएशन मापन यंत्र की उपलब्धता जिले के लिए सुनिश्चित की जाए। बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती जमुना भिड़े, एसडीएम रतलाम ग्रामीण श्री एम.एल. आर्य कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी श्री दीपेश गुप्ता, ई-गवर्नेंस मैनेजर श्री नरेंद्रसिंह चौहान, जिला बीएसएनएल प्रबंधक आदि उपस्थित थे।

बैठक में बताया गया कि 10 आवेदनों में 9 आवेदन रतलाम शहर में टावर स्थापना के हैं जबकि एक आवेदन पिपलोदा क्षेत्र में टावर स्थापना के लिए प्राप्त हुआ है। अनुमति के लिए नगर निगम, राजस्व विभाग, लोक निर्माण विभाग सहित अन्य विभागों की एनओसी की आवश्यकता होती है जिसकी पूर्ति पश्चात कंपनियों को टावर स्थापना के लिए पूर्ण रूप से अनुमति दी जाएगी।

फॉलो करें =>Google news Account & Dailyhunt Account को, और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

Source link