विनीत कुमार सिंह के लिए पंकज त्रिपाठी बने मसीहा, पांच दिन से थे त्रस्त

विनीत कुमार सिंह के लिए पंकज त्रिपाठी बने मसीहा, पांच दिन से थे त्रस्त

नई दिल्ली | कोरोनावायरस का खतरा हर तरफ देखने को मिल रहा है। देश में लगातार कोरोना के मरीज बढ़ते दिख रहे हैं। आलम ये है कि कई जगहों पर लोगों को मेडिकल सुविधाएं भी नहीं मिल पा रही हैं। ऐसा ही कुछ एक्टर विनीत कुमार सिंह के साथ भी हुआ। दरअसल, विनीत और उनका परिवार बीमार चल रहा है। उन्होंने इसकी जानकारी ट्विटर पर दी थी लेकिन इस बात की पुष्टि नहीं की कि उन्हें कोरोना हुआ है। विनीत ने बताया था कि उन्हें पांच दिन से ना दवा मिल रही है और ना ही लैब टेस्ट हो रहा है। जिसके बाद पकंज त्रिपाठी उनकी मदद के लिए आगे आए हैं।

पंकज त्रिपाठी बने विनीत का सहारा

विनीत कुमार सिंह ने अपने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए लिखा- जिन्हें सन्देह है उन्हें बताना चाहता हूं की मेरे परिवार के सदस्य बीमार हैं, कुछ मित्र बीमार हैं और मैं ख़ुद भी बीमार हूं। दवा मिल गयी है। मदद करने के लिये धन्यवाद पकंज त्रिपाठी भाई। मेरे किरदार को सुल्तान ने वासेपुर में गोली मारी थी लेकिन असल जीवन में गोली (दवा) भिजवायी है। पकंज त्रिपाठी की मदद के बाद फैंस उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं और विनीत के जल्द ठीक होने की कामना कर रहे हैं।

पांच दिन से दवाइयों के लिए भटके विनीत सिंह

बता दें कि विनीत ने इससे पहले ट्वीट कर लिखा था- मैं बनारस में हूँ बाज़ार में दवा (FabiFlu) नहीं मिल रही है। निजी लैब कोविड टेस्ट करने को पांच दिन से असमर्थ हैं। बीमार को क्या दूँ? आपके वादे या आपके अपार भीड़ वाली रैली की videos? जो आप लोग लगातार पोस्ट कर रहे हैं? धिक्कार है। स्वार्थ अंधा बना देता है। विनीत के इसी ट्वीट के बाद कई लोग ट्विटर पर उनकी मदद के लिए आगे आते दिखाई दिए थे। आखिरकार पकंज त्रिपाठी की मदद विनीत तक पहुंची। हालांकि विनीत को बाद में रवि किशन से भी मदद मिली और उन्होंने कोरोना टेस्ट कराने के लिए उन्हें धन्यवाद किया है।

गौरतलब हो कि पंकज त्रिपाठी और विनीत सिंह एक साथ फिल्म गैंग्स ऑफ़ वासेपुर में नजर आए थे। विनीत ने दानिश का किरदार निभाया था जिसे सुल्तान बने पंकज त्रिपाठी गोली मारते हैं। फिल्म को अनुराग कश्यप ने डायरेक्ट किया था।


Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here