वज़न कम करना चाहते हैं तो रात को करें इन 5 ड्रिंक्स का सेवन

वज़न कम करना चाहते हैं तो रात को करें इन 5 ड्रिंक्स का सेवन
वज़न कम करना चाहते हैं तो रात को करें इन 5 ड्रिंक्स का सेवन : बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल के लिए हमारा खान-पान ही जिम्मेदार होता है। ऐसे में हेल्दी चीज़ें खाकर आप इसे कंट्रोल कर सकते हैं। जुकिनी कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है क्योंकि इसमें हाई सॉल्यूबल फाइबर होते हैं, जो बढ़े हुए कॉलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

जुकिनी का नाम तो आपने बहुत सुना होगा, लेकिन शायद आप भी इसे कोई विदेशी सब्जी ही समझते होंगे। तो हम आपको बता दें कि यह तोरी, तुरई या नेनुआ ही है। हां, अलग-अलग जगहों पर इसके रंग और प्रकार में भिन्नता होती है। जुकिनी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है। तो आइए, जानते है इसके स्वास्थ्य लाभ।

पाचन तंत्र ठीक रखने में मददगार

हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो फाइबर से भरपूर जुकिनी खाने से आपका पाचन बिल्कुल दुरुस्त रहता है। जिन लोगों को गैस, अपच, खट्टी डकार आदि की समस्या होती है उन्हें जुकिनी अवश्य खान चाहिए। इसकी सब्जी को बिना मसाले के बनाकर खाना ज़्यादा फायदेमंद होता है।

कोलेस्ट्रॉल को करें कंट्रोल

बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल के लिए हमारा खान-पान ही जिम्मेदार होता है। ऐसे में हेल्दी चीज़ें खाकर आप इसे कंट्रोल कर सकते हैं। जुकिनी कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है क्योंकि इसमें हाई सॉल्यूबल फाइबर होते हैं, जो बढ़े हुए कॉलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

हड्डियों को मजबूत बनाता है

जुकिनी में एंटीऑक्सीडेंट्स, मैग्नीशियम और विटमिन-के भरपूर मात्रा में होता है। हड्डियों को मजबूत बनाने में मैग्नीशियम और विटमिन के की अहम भूमिका होती है। साथ ही यह हमारी मांसपेशियों को भी कमजोर होने से बचाता है।

त्वचा को जवां बनाए रखती

जुकिनी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होता है, जो बढ़ती उम्र के कारण होने वाले दाग-धब्बे और फाइन लाइन्स के असर को कम करके समय से पहले त्वचा पर उम्र के निशां नज़र नहीं आने देता। यह झुर्रियों को रोकने में भी मददगार है।

डायबिटीज से बचाव

जुकिनी में स्टार्च की मात्रा बहुत ही कम होती है और फाइबर भरपूर मात्रा में होता है। इसलिए रोजाना जुकिनी का सेवन करने से टाइप-2 डायबिटीज का खतरा कम हो जाता है।

हाई बीपी में फायदेमंद

जुकिनी न सिर्फ हाई बीपी से बचाती है, बल्कि जिन लोगों को बीपी की समस्या है उनमें इसे गंभीर होने से भी बचाती है। दरअसल, इसमें पोटैशियम की भरपूर मात्रा होती है और पोटैशियम हमारी रक्त वाहिकाओं को साफ और चौड़ा बनाने का काम करती है। जिससे शरीर में रक्त प्रवाह सुचारू रूप से होता रहता है।

मोटापा कम करने में सहायक

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, जुकिनी में चूकि फाइबर की मात्रा अधिक होती है तो इसे खाने के बाद देर तक पेट भरा रहता है जिससे आप बेकार की चीज़ें खाने से बच जाते हैं और शरीर को एनर्जी भी मिलती रहती है। यह शरीर में अतिरिक्त चर्बी जमा नहीं होने देती।

आंखों के लिए लाभदायक

विशेषज्ञों के मुताबिक, जुकिनी में विटामिन ए भरपूर मात्रा में होता है जो आंखों को रूखेपन और पफीनेस से बचाने में मदद करता है।

जुकिनी के नुकसान

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, जुकिनी वैसे तो बहुत सेहतमंद होती है, लेकिन इसके कुछ नुकसान भी है।

– जुकिनी का ज्यादा सेवन करने पर कुछ लोगों को पेट दर्द और पेट में ऐंठन की समस्या हो सकती है।

– जुकिनी में फाइबर अधिक मात्रा में होता है जिसकी वजह से अधिक मात्रा में खाने पर दस्त हो सकता है।

– जुकिनी के सेवन से कुछ लोगों को एलर्जी की भी शिकायत हो सकती है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Follow करें और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here