राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेंगे दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेंगे दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बुधवार को यहां दुनिया के सबसे बड़े मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम का औपचारिक उद्घाटन और सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एनक्लेव का भूमिपूजन करेंगे। इस मौक़े पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू भी मौजूद होंगे। इस स्टेडियम पर भारत और इंग्लैंड के बीच मौजूदा शृंखला का तीसरा टेस्ट शुरू होगा जो दिन रात्रि मैच होगा। शहर के मोटेरा स्थित यह स्टेडियम जो क्रिकेट प्रेमियों के बीच मोटेरा स्टेडियम के नाम से लोकप्रिय है 63 एकड़ के विशाल क्षेत्र में फैला है, जिसमें 1.10 लाख लोगों की बैठने की क्षमता है।

अब तक मेलबोर्न का एमसीजी दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम था जिसमें एक साथ में 90,000 लोग बैठ सकते हैं। गुजरात में निर्मित दुनिया की सबसे बड़ी प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के बाद, अब राज्य क्रिकेट में दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम का रिकॉर्ड स्थापित करने जा रहा है। अनुमानित 800 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित, इस स्टेडियम का निर्माण लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) कंपनी द्वारा किया गया है जिसने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का निर्माण भी किया था।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस ड्रीम प्रोजेक्ट में 3 कॉर्पोरेट बॉक्स, ओलंपिक स्तर का स्विमिंग पूल, इनडोर अकादमी, चार ड्रेसिंग रूम, फूड कोर्ट और जीसीए क्लब हाउस भी शामिल किया गया हैं। स्टेडियम में छह लाल और पांच काली मिट्टी की कुल 11 पिचें तैयार की गई हैं। मुख्य और अभ्यास पिचों के लिए दोनों मिट्टी का उपयोग करने वाला यह पहला स्टेडियम है। बारिश की स्थिति में पिच को केवल 30 मिनट में सुखाया जा सकता है। अत्याधुनिक एलईडी फ्लडलाइट से वातावरण गर्म नहीं होगा और दर्शकों के साथ-साथ क्रिकेटरों को भी आराम मिलेगा।

इस स्टेडियम की एक विशेषता यह भी है कि 9 मीटर की ऊंचाई पर 360 डिग्री पोडियम कोनकोर्स दर्शकों की आवाजाही को सरल बनाती है, साथ ही यह किसी भी स्टैंड से दर्शकों को एक समान द्दश्य प्रदान करता है। कॉरपोरेट बॉक्स में प्रत्येक की बैठने की क्षमता 25 है। 150 टन का एयर-कूलिंग टॉवर स्टेडियम के क्लोज ईन हिस्से को वातानुकूलित बनाए रखेंगा। दोनों टीमों के खिलाड़ियों की आवश्यकता के अनुसार विशाल ड्रेसिंग रूम बनाए हैं।

दोनों टीमों के लिए अलग-अलग अत्याधुनिक जिम स्थापित किए गए हैं। खिलाड़ी और वीआईपी प्रवेश द्वार के पास एक विशेष लाउंज बनाया गया है। स्टेडियम में ऑटोग्राफ गैलरी में अब तक खेले गए आईपीएल और विश्व कप मैचों की टीमों के खिलाड़ियों के हस्ताक्षर वाले बल्लों का संग्रह (ऑटोग्राफ्ड बैट कलेक्शन) आकर्षण का केंद्र है। विश्व प्रसिद्ध क्रिकेटरों की तस्वीरों वाला ‘हॉल ऑफ फ़ेम’ स्टेडियम का एक अन्य आकर्षण है।

जब 2016 में इसे स्टेडियम को पुनर्निर्माण के लिए ध्वस्त किया गया तो इसकी 54,000 दर्शकों की क्षमता थी। नए क्रिकेट स्टेडियम का शिलान्यास जनवरी, 2018 में किया गया था। इसमें इंग्लैंड और भारत की टीमें चौथा टेस्ट मैच और कुल पांच टी-ट्वेंटी मैच भी खेलेंगी। इसी स्टेडियम में पिछले साल 24 फरवरी को तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के भारत दौरे पर नमस्ते ट्रम्प कार्यक्रम का आयोजन किया गया था पर तब तक इसका औपचारिक उद्घाटन नहीं हुआ था।

Follow करें और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here