राजस्थान में दबंगों ने मंदिर के पुजारी को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया

temple priest

राजस्थान के करौली में दो दिन पहले जमीन विवाद को लेकर एक मंदिर के पुजारी को पेट्रोल डालकर आग के हवाले कर दिया गया. इस वारदात में गंभीर रूप से जख्मी पुजारी को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां गुरुवार रात को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

temple priest (Photo Credit: (फोटो-ANI))

भरतपुर:

राजस्थान के करौली में दो दिन पहले जमीन विवाद को लेकर एक मंदिर के पुजारी को पेट्रोल डालकर आग के हवाले कर दिया गया. इस वारदात में गंभीर रूप से जख्मी पुजारी को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां गुरुवार रात को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. इस वारदात को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी को कैलाश मीणा को करौली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

यह पूरा घटनाक्रम करौली के सपोटरा थाना इलाके की ग्राम पंचायत बुकना का है. यहां मंदिर पर 50 वर्षीय बाबूलाल वैष्णव पूजा करता था और मंदिर माफी की जमीन पर भी उसी का कब्जा था. लेकिन इस जमीन को लेकर गांव के दबंग कैलाश मीणा की नजर थी. इसी जमीन पर कब्जा हथियाने के लिए आरोपी कैलाश मीणा ने पुजारी पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी.

इस घटना को लेकर सपोटरा थाना अधिकारी हरजी लाल यादव ने बताया कि ग्राम पंचायत बुकना के मंदिर पर 50 वर्षीय बाबूलाल वैष्णव पूजा करते थे जिसे लेकर गांव वालों ने उसे मंदिर माफी की जमीन बता रखी थी. कुछ दिन पूर्व पुजारी ने जमीन के ऊपर रिहाशी घर बनाने के लिए समतल कराई थी. इस जमीन पर दबंगों ने जबरदस्ती छप्पर डालने शुरू कर दिये. इस पर पुजारी ने गांव वालों को से शिकायत की. इसी बात को लेकर दबंगों ने जमीन पर पुजारी के सामना को पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी. बीच बचाव में आये पुजारी पर भी पेट्रोल डाल दिया गया. इस हादसे में पुजारी बाबूलाल बुरी तरह घायल हो गया जिसे सपोटरा अस्पताल लाया गया, जहां से चिकित्सकों ने अधिक घायल होने के कारण करौली रेफर कर दिया. परिजन उसे करौली न ले जाकर जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल लेकर पहुंचे.

ये भी पढ़ें: राजस्थान में नहीं थम रही रेप की घटनाएं, बाड़मेर में नाबालिग के साथ हुई हैवानियत

जयपुर के एसएमएस अस्पताल की बर्न यूनिट में इलाज के दौरान गुरुवार को पुजारी की मौत हो गयी. उधर, जयपुर में फाइट फोर राइट, श्री परशुराम सेना आदि संगठनों के पदाधिकारी पुजारी पर हुए अत्याचार को लेकर अस्पताल पहुंचे.  परशुराम सेना के संयोजक अनिल चतुर्वेदी ने करौली एसपी मृदुल कछवाहा से आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की. साथ ही यदि शीघ्र अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो आंदोलन की चेतावनी भी दी है.

संबंधित लेख



First Published : 09 Oct 2020, 02:37:01 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.





Source link