राजस्थान में आरक्षण को लेकर गुर्जर आंदोलन उग्र : रेल मार्ग बाधित

Gurjar

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने भरतपुर के पिलूकापुरा के महापंचायत में पहुंचे लोगों को सम्बोधित किया। कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला की बात फ़ोन पर राजस्थान के खेल मंत्री अशोक चांदना से हुई थी

Written By : अजय शर्मा | Edited By : Avinash Prabhakar | Updated on: 01 Nov 2020, 06:40:53 PM

Colonel Kirori Singh (Photo Credit: File)

भरतपुर :

राजस्थान में गुर्जर आंदोलन एक बार फिर उग्र हो रहा है. रविवार को आंदोलनकारी दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर पहुंच कर रेलवे ट्रैक को पूरी तरह से कब्जा कर लिया.  बता दें अति पिछड़ा वर्ग (एमबीसी) में पांच फीसद आरक्षण का मामला संविधान की नौवीं अनुसूची में शामिल कराने, बैंकलॉग पूरा करने, देवनारायण बोर्ड के गठन सहित विभिन्न मांगों को लेकर राजस्थान के गुर्जर रविवार को उग्र हो गए.

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने भरतपुर के पिलूकापुरा के महापंचायत में पहुंचे लोगों को सम्बोधित किया। बता दें कि गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला की बात फ़ोन पर राजस्थान के खेल मंत्री अशोक चांदना से हुई थी. फ़ोन पर अशोक चांदना ने 3 घंटे में पीलूपुरा पहुंचने की बात कही थी. परन्तु, इसी बीच महापंचायत में आये युवाओं ने अड्डा बयाना में दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर रेलवे ट्रैक की पटरी उखाड़ दी. पटरी पर कब्जा करने के साथ ही जगह-जगह गड्ढ़े कर दिए गए.

रेलवे पटरीको उखाड़ने से दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पूरी तरह से बाधित हो गया. लगभग आधा दर्जन ट्रेनों को रोक दिया गया. इस प्रोटेस्ट में कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के पुत्र विजय बैंसला भी पटरियों पर पंहुच कर विरोध प्रदर्शन किया. गुर्जर समाज के लोगों ने रेलवे ट्रैक पर पूरी तरह से कब्जा  कर लिया.

 

संबंधित लेख



First Published : 01 Nov 2020, 06:40:53 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link