योगी का ताबड़तोड़ एक्शन: अब शोहदों की खैर नहीं, 15,000 पाॅवर एजेण्ट बनाये गये

योगी का ताबड़तोड़ एक्शन: अब शोहदों की खैर नहीं, 15,000 पाॅवर एजेण्ट बनाये गये

लखनऊः वीमेन पाॅवर लाइन (1090) द्वारा महिलाओं एवं बालिकाओं के साथ टेलीफोन द्वारा छेड़खानी तथा विभिन्न प्रकार के उत्पीड़न सम्बन्धी मिलने वाली शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही की दिषा में गम्भीरता से प्रयास किये गये हैं। इस वर्ष 31 मई तक 39,344 शिकायतों अपराध से सम्बन्धित होने के कारण जिला पुलिस को अग्रिम कार्यवाही के लिए भेजी गयी है। अपर पुलिस महानिदेषक, वीमेन पाॅवर लाइन नीरा रावत ने बताया कि इस वर्ष जनवरी से 31 मई, तक कुल पांच माह की अवधि में वीमेन पाॅवर लाइन 1090 पर कुल 1,18,068 शिकायतें दर्ज हुई हैं, जिनमे 77,662 शिकायतें फोन बुलिंग एवं साइबर बुलिंग से संबंधित हैं। इसके अतिरिक्त 1,062 शिकायतें स्टाकिंग से संबंधित हैं। इनमें से अधिकांश शिकायतों का निस्तारण किया जा चुका है तथा शेष पर कार्यवाहीचल रही है।

उन्होंने बताया कि उपरोक्त षिकायतों में से 39,344 शिकायतें अपराध से संबंधित होने के कारण उन्हें जनपदीय पुलिस को आगे की कार्यवाही लिए भेजी गयी हैं, ताकि महिलाओं को परेषान करने वाले तत्वों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही सुनिष्चित की जा सके। अपर पुलिस महानिदेषक, वीमेन पाॅवर लाइन 1090 ने यह भी बताया कि वर्ष-2019 में 1090 पर कुल 2,79,157 शिकायतें दर्ज हुई, जिनमे से 1,97,750 शिकायतें फोन बुलिंग एवं साइबर बुलिंग से संबंधित थी। इन षिकायतों को सीधे 1090 द्वारा निस्तारित किया गया। इसके अतिरिक्त 4,204 शिकायतें स्टाकिंग से तथा 77,203 शिकायतें अपराध से संबंधित होने के कारण उन्हें जिले की पुलिस को सौंप दिया गया। उन्होंने बताया कि स्कूल व काॅलेज की छात्राओं को छेड़खानी एवं उत्पीड़न की घटनाओं से जागरूक करने एवं षिकायतों को वीमेन पाॅवर लाइन-1090 तक पहुंचाने एवं समाज में वीमेन पाॅवर लाइन-1090 की सेवा तथा महिला सषक्तीकरण के उद्देश्य से प्रचलित पावर एजेण्ट योजना के अन्तर्गत अब तक प्रदेश में लगभग 15,000 पाॅवर एजेण्ट बनाये जा चुके हैं।

Follow करें और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here