यह मशहूर टेक कंपनी कर रही है Facebook-Instagram यूजर्स की जासूसी!

Facebook


आज के दौर में लोग सोशल नेटवर्किंग साइट्स Facebook, Instagram और Tiktok का इस्तेमाल करते हैं. सभी को यह बहुत बेहतरीन लगता है. ऐसे में इन्ही साइट्स पर यूजर्स की जासूसी करने का आरोप कई बार लग चुका है. अब ऐसा ही एक आरोप मशहूर टेक कंपनी Google पर लगा है. जी दरअसल ऐसी खबर सामने आई है कि Google अपने प्रतिद्वंदी ऐप यूजर की निगरानी कर रहा है. Google अपने प्रोडक्ट को अच्छा बनाने के लिए नॉन गूगल ऐप पर यूजर के इंटरैक्शन पर इंटरनल प्रोग्राम के जरिए नजर रखने का काम कर रहा है.

सामने आने वाली एक रिपोर्ट के अनुसार इस प्रोग्राम को गूगल की तरफ से Android Lockbox नाम दिया जा चुका है. जी दरअसल इसी के तहत Google के कर्मचारियों को डाटा एक्सेस करने की इजाजत देते हैं. इसमें पॉप्युलर नॉन Google ऐप जैसे Tiktok, Facebook और Instagram पर एंड्राइड यूजर के विहेवियर को आंका जाता है. आप सभी को हम यह भी बता दें इस समय youtube भारत में Tiktok की तरह ऐप लांच करने की तैयारी में है. ऐसे में Youtube की ओर से Tiktok इस्तेमाल करने वाले यूजर्स का डाटा एक्सेस करने के बारे में भी खबरे हैं. वहीं इस प्रोग्राम को Google Mobile Service (GMS) के जरिए अंजाम देने के बारे में कहा गया है. बताया गया है कि इसके तहत Google के कर्मचारी आसानी से दूसरे ऐप के सेंसटिव डाटा एक्सेस कर पाते हैं.

उदाहरण के लिए –किसी यूजर्स ने Tiktok को किस टाइम ओपन किया और कितनी देर तक इस्तेमाल किया. हम आप सभी को यह भी बता दें कि Google ओन्ड Youtube के शार्ट वीडियो ऐप को इस साल के अंत तक पेश करने के बारे में विचार कर रहा है. जी दरअसल Google एंड्राइड सेटअप प्रासेस के दौरान यूजर्स से इंफॉर्मेशन शेयर की इजाजत पा लेता है. अब अगर गूगल की मानें, तो इस डाटा को रिसर्च के लिए उपलब्ध कराया जाता है. वहीं इसी क्रम में अब कई यूजर्स ने आरोप लगाया है कि Google डाटा को पर्सनल इस्तेमाल करता है.

आज के दौर में लोग सोशल नेटवर्किंग साइट्स Facebook, Instagram और Tiktok का इस्तेमाल करते हैं. सभी को यह बहुत बेहतरीन लगता है. ऐसे में इन्ही साइट्स पर यूजर्स की जासूसी करने का आरोप कई बार लग चुका है. अब ऐसा ही एक आरोप मशहूर टेक कंपनी Google पर लगा है. जी दरअसल ऐसी खबर सामने आई है कि Google अपने प्रतिद्वंदी ऐप यूजर की निगरानी कर रहा है. Google अपने प्रोडक्ट को अच्छा बनाने के लिए नॉन गूगल ऐप पर यूजर के इंटरैक्शन पर इंटरनल प्रोग्राम के जरिए नजर रखने का काम कर रहा है.

सामने आने वाली एक रिपोर्ट के अनुसार इस प्रोग्राम को गूगल की तरफ से Android Lockbox नाम दिया जा चुका है. जी दरअसल इसी के तहत Google के कर्मचारियों को डाटा एक्सेस करने की इजाजत देते हैं. इसमें पॉप्युलर नॉन Google ऐप जैसे Tiktok, Facebook और Instagram पर एंड्राइड यूजर के विहेवियर को आंका जाता है. आप सभी को हम यह भी बता दें इस समय youtube भारत में Tiktok की तरह ऐप लांच करने की तैयारी में है. ऐसे में Youtube की ओर से Tiktok इस्तेमाल करने वाले यूजर्स का डाटा एक्सेस करने के बारे में भी खबरे हैं. वहीं इस प्रोग्राम को Google Mobile Service (GMS) के जरिए अंजाम देने के बारे में कहा गया है. बताया गया है कि इसके तहत Google के कर्मचारी आसानी से दूसरे ऐप के सेंसटिव डाटा एक्सेस कर पाते हैं.

उदाहरण के लिए –किसी यूजर्स ने Tiktok को किस टाइम ओपन किया और कितनी देर तक इस्तेमाल किया. हम आप सभी को यह भी बता दें कि Google ओन्ड Youtube के शार्ट वीडियो ऐप को इस साल के अंत तक पेश करने के बारे में विचार कर रहा है. जी दरअसल Google एंड्राइड सेटअप प्रासेस के दौरान यूजर्स से इंफॉर्मेशन शेयर की इजाजत पा लेता है. अब अगर गूगल की मानें, तो इस डाटा को रिसर्च के लिए उपलब्ध कराया जाता है. वहीं इसी क्रम में अब कई यूजर्स ने आरोप लगाया है कि Google डाटा को पर्सनल इस्तेमाल करता है.



Follow करें और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here