महिलाओं के सेहत से जुड़े 5 प्रभावशाली सुझाव

महिलाओं के सेहत से जुड़े 5 प्रभावशाली सुझाव
महिलाओं के सेहत से जुड़े 5 प्रभावशाली सुझाव
महिलाओं के सेहत से जुड़े 5 प्रभावशाली सुझाव  : अक्सर देखा गया है कि महिलाएं अपने सेहत को लेकर थोड़ी लापरवाह रही हैं. जबकि आज की तारीख़ में महिलाओं को ख़ुद के लिए समय निकालना और अपनी सेहत का ध्यान रखना बेहद ज़रूरी हो गया है. ऐसे में यहां पर दिए गए पांच सलाहों को अपनाकर वे हर दिन अपने लिए और अपनों के लिए स्वयं को स्वस्थ रख सकती हैं. इस संदर्भ में हमें जे. सोमैया कॉलेज ऑफ फिजियोथेरेपी की डॉ. श्वेता मनवाड़कर, जो प्रोफेसर और फिजियोथेरेपिस्ट भी हैं कई उपयोगी जानकारियां दीं.

आज की कोरोना वायरस और लॉकडाउन की महामारीवाली स्तिथि में जब परिवार का हर सदस्य तनाव का सामना कर रहा है, तब उस परिवार को सुख-चैन के कुछ पल, ख़ुशी-अपनापन देने का सामर्थ्य ज़्यादातर परिवारों में, उस घर की गृहिणी के हाथ में ही होता है. ऐसे में यह बहुत ज़रूरी हो जाता है कि वो दूसरों के साथ-साथ अपनी भी शारीरिक और मानसिक तंदुरुस्ती का ख़्याल रखें. इसी से जुड़ी कुछ ऐसी ही बातें यहां पर दे रहे हैं.

१) सुबह का नाश्ता…

  • स्त्रियां सब को खिलाने की व्यस्तता में भी अपने ख़ुद के सुबह के नाश्ते के प्रति भी ख़ास ध्यान दें.
  • दिन की शुरुआत में लिया हुआ पौष्टिक आहार मेटाबॉलिज़्म के लिए अच्छा होता है और उससे आगे के काम करने के लिए एनर्जी मिलती है और वज़न भी कंट्रोल में रहता है.
  • सुबह के नाश्ते में पोहा, उपमा इत्यादि के साथ केला, सेब, संतरा आदि फल, पनीर, दूध, रागी, राजगिरा , सिंगदाना, कुरमुरा, सूखा मेवा इत्यादि लें.
  • इन सबसे शरीर को भरपूर मात्रा में कैल्शियम और विटामिन डी मिलता है.

२) नियमित एक्सरसाइज़…

  • तंदुरुस्त रहने के लिए हर दिन शारीरिक व्यायाम करना अत्यंत आवश्यक है.
  • हफ़्ते के तीन दिन ३० मिनट तक एरोबिक एक्सरसाइज़ और हफ़्ते के दो दिन ३० मिनट तक स्नायु की ताकत बढ़ाने के व्यायाम ज़रूरी है.
  • इससे आपका पूरे हफ़्ते में १५० मिनट का एक्सरसाइज़ का ज़रूरी कोटा पूरा हो जाएगा.
  • हर ३० मिनट की एक्सरसाइज़ के पहले १० मिनट का वॉर्मअप और अंत में १० मिनट का कूल डाउन अवश्य करें.
  • एक्सरसाइज़ के बारे में अपने डॉक्टर और फिजियोथेरेपिस्ट कि सलाह ज़रूर लें.
  • इस तरह सही तरीक़े से एक्सरसाइज़ करने पर बिना किसी दर्द के व्यायाम का लाभ मिलेगा.
  • घर पर चलने के लिए जगह न हो, तो आप थोड़ी-सी जगह में भी 8 के आंकड़े में जितनी देर चाहे उतनी देर बिना रुके चल सकती हैं. इस तरह के चलने को ‘इन्फिनिटी वॉक’ कहा जाता है.
  • घर पर नियमित रूप से किए गए आसान स्ट्रेचेस, स्क्वॉट्स, अगर वेट्स नहीं हो, तो पानी की बोतल हाथ में पकड़कर हाथ की ताकत बढ़ाने के लिए किए गए एक्सरसाइज़ इन सबका ख़ासकर महिलाओं में हड्डियां और स्नायु ताकतवर बनाने में बहुत मदद मिलती है.
  • घर पर एक्सरसाइज़ करने के लिए योगा मैट का इस्तेमाल अवश्य करें.
  • व्यायाम के लिए एक समय और जगह निश्‍चित करेंगी, तो इससे हर दिन करने में आसानी भी होगी और मदद भी मिलेगी. साथ ही जल्दी ही एक्सरसाइज़ करना आपकी पॉज़िटिव आदत बन जाएगी.

३) एक्टिव रहने की आदत…

  • महिलाएं नियमित एक्सरसाइज़ के साथ-साथ दिनभर एक्टिव रहने की आदत डालें.
  • जैसे कोई भी मशीन पड़े-पड़े बिगड़ जाती है, वैसे ही अपने शरीर का भी है. अपने शरीर को मूवमेंट की आवश्यकता होती है, इसलिए एक ही शारीरिक स्थिति में बहुत देर तक ना बैठे.
  • जब ध्यान में आ जाए कि आप बहुत देर से बैठी हैं, जैसे- टीवी के सामने या कुछ पढ़ते वक़्त या मोबाइल देखते समय, फोन पर बात करते वक़्त, तो उठकर थोड़ा टहल लें.
  • बैठते वक़्त सीधा बैठे, चलते वक़्त सहजता से पर सीधा चले, रीढ़ की हड्डी व कंधे झुकाए नहीं.
  • आलसपन ना आने दे, इससे जितना दूर रहे बेहतर है.

और पढ़ें : ब्लॉग जगत में बैकलिंक क्या होती है और इसे कैसे बनाते हैं?

४) मन की सफ़ाई…

  • तंदुरुस्त शरीर के लिए मन स्वस्थ होना भी अत्यावश्यक है.
  • कई शोधों से यह साबित हुआ है कि शरीर की बहुत-सी बीमारियों का मूल मन में ही होता है.
  • कई बार घर पर ऐसी कोई घटना घटती होती है, जिससे मन का चैन खो जाता है.
  • ऐसे में मन का दुखी होना स्वाभाविक है, लेकिन लंबे समय तक दुखी रहना शारीरिक स्वास्थ्य के लिए भी बेहद हानिकारक है.
  • इसलिए किसी भी ऐसी घटना के बाद जितनी जल्दी हो सके, उतनी जल्दी ख़ुद के भावनाओं पर काबू पाएं.
  • प्राणायाम, योग, ध्यान को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं. इससे मन को बेहद शांति मिलेगी.
  • जैसे हम गंदे-मैले कपड़े नहीं पहनते, वैसे ही मन भी मैला ना करे. अच्छा सोचें, अच्छा सुने और अच्छा बोलें.

५) स्वस्थ परस्पर संबंध…

  • अच्छी सेहतभरी ज़िंदगी जीने के लिए अपनों का साथ और विश्‍वास बेहद ज़रूरी है.
  • परिवार के लोगों के साथ बैठकर बातें करें.
  • उनके साथ हंसी-मज़ाक के साथ ख़ुशी के पल बिताएं.
  • घर पर कैरम, कार्ड्स आदि खेल भी खेल सकते हैं.
  • कुछ महिलाएं घर के ज़िम्मेदारियों में ख़ुद को पूरी तरह से व्यस्त कर लेती हैं. ऐसा बिल्कुल ना करें.
  • आपके जितने भी गहरे दोस्त हों, उनसे नियमित रूप से संपर्क में रहें.
  • रिश्तेदारों से भी अपनापन व मधुर संबंध रखें.
  • उनका हालचाल पूछने के लिए समय-समय पर फोन करें. इससे आपका तनाव भी कम होगा और आत्मविश्‍वास भी बढ़ेगा.
    आपकी सामाजिक स्थिति जितनी समृद्ध होगी, आपके रिश्ते जितने मज़बूत होंगे, बीमारियां उतनी ही आपसे दूर रहेंगी और आप ख़ुशहाल जीवन जी सकेंगी.

Follow करें और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here