बेटी के आशिक की हत्यारोपी बुलेट वाली 'प्रतिभा' ने कोर्ट में किया सरेंडर, हाथ मलती रह गई पुलिस

बेटी के आशिक की हत्यारोपी बुलेट वाली 'प्रतिभा' ने कोर्ट में किया सरेंडर, हाथ मलती रह गई पुलिस

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सुल्तानपुर (Sultanpur) से है, यहां ‘बुलेट वाली प्रतिभा’ के नाम से मशहूर ने शुक्रवार (08, जनवरी) को सीजेएम कोर्ट में सरेंडर कर दिया। प्रतिभा पर बेटी के आशिक की हत्या का आरोप है। कोतवाली नगर पुलिस पिछले काफी से उसकी तलाश में थी और संभावित स्थानों पर दबिश दे रही थी। लेकिन पुलिस को चकमा देते हुए प्रतिभा आज कोर्ट में हाजिर हो गई और सरेंडर कर दिया।

क्या है मामला

बता दें कि, बाराबंकी जिले के लोनी कटरा इलाके में 3 दिसंबर, 2020 को एक अज्ञात शव पड़ा मिला था। जिसका पुलिस ने अंतिम संस्कार तक कर दिया था। हालांकि, शव की पहचान उसके कपड़ों से हो गई। मृतक युवक की पहचना सुल्तानपुर जिले के कोतवाली नगर क्षेत्र स्थित पीडब्ल्यूडी निवासी हिमांशु सिंह के रूप में हुई। हिमांशु के परिजनों ने पुलिस दी तहरीर में बताया कि 3 दिसंबर, 2020 को उसकी अपहरण के बाद हत्या कर दी गई थी और इसका आरोप प्रतिभा उसकी बेटी सजल समेत तीन लोगों पर लगा था।

तीन आरोप को पुलिस कर चुकी है गिरफ्तार

सुल्तापुर पुलिस ने बीते दिनों प्रदीप मिश्र, सुपारी लेकर हत्या करने वाले मो. वाहिद व साजिशकर्ता गुफरान को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। घटना की मुख्य आरोपी प्रतिभा उपाध्याय और उसकी बेटी सजल फरार चल रही थी। इस क्रम में पुलिस ने प्रतिभा के शहर स्थित आवास पर एक दिन छापेमारी की तो वहां पिंजरे में कैद बंदर वा अन्य पक्षी मिले थे। जिन्हें आजाद करते हुए पुलिस ने उसके खिलाफ पशु क्रूरता का अभियोग दर्ज किया था।

तो वहीं, आज सुल्तानपुर पुलिस को चकमा देते हुए प्रतिभा ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से सीजेएम कोर्ट में सरेंडर किया। बता दें कि, पूर्व में प्रतिभा के वकील ने सीजेएम कोर्ट में सरेंडर की अर्जी डाली थी। सीजेएम हरीश कुमार ने प्रतिभा के वांछित होने अथवा न होने के सम्बंध में नगर कोतवाल से रिपोर्ट तलब की थी। कोर्ट ने सुनवाई के लिए आज 8 जनवरी की तारीख तय की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here