बीजेपी और जेडीयू में से जिसकी जितनी भी सीटें आएं, नीतीश ही होंगे सीएम- सुशील मोदी

बीजेपी और जेडीयू में से जिसकी जितनी भी सीटें आएं, नीतीश ही होंगे सीएम- सुशील मोदी

बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में सीट बंटवारे का ऐलान हो गया है. सीट बंटवारे के ऐलान के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने पत्रकारों से बात की और यह संदेश दिया कि जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के नेतृत्व में एनडीए मजबूती से चुनाव लड़ेगा.

इस दौरान भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता और बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने गठबंधन से अलग होकर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) को भी सख्त संदेश दे दिया. सुशील कुमार मोदी ने यह साफ किया है कि बीजेपी और जेडीयू में से जिसकी जितनी भी सीटें आएं, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही बनेंगे. इसे लेकर किसी को कोई दुविधा नहीं होनी चाहिए.

उन्होंने यह भी कहा कि बिहार एनडीए में सिर्फ चार ही दल हैं. बिहार के डिप्टी सीएम ने कहा कि एनडीए से जुड़े ये चार दल ही प्रधानमंत्री की तस्वीर का इस्तेमाल कर सकते हैं. बिहार के डिप्टी सीएम ने कहा कि जरूरत पड़ी तो इसके लिए हम चुनाव आयोग को भी पत्र लिखेंगे. उन्होंने एलजेपी के अलग राह अख्तियार करने को लेकर कहा कि अगर आज रामविलास पासवान स्वस्थ रहते तो ये परिस्थिति पैदा नहीं हुई होती.

इससे पहले नीतीश कुमार ने भी कहा कि रामविलास पासवान से पुराना लगाव रहा है. सीएम नीतीश ने कहा कि रामविलास पासवान जेडीयू के सहयोग से ही राज्यसभा पहुंचे. अब किसके मन में क्या है, यह कौन जानता है. गौरतलब है कि एनडीए में रहते हुए भी चिराग पासवान ने नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा था.

चिराग ने गठबंधन में मनचाही संख्या में सीटें न मिलने पर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया था. 243 सदस्यीय विधानसभा की 143 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान करते हुए चिराग ने यह भी साफ किया था कि एलजेपी, भाजपा के खिलाफ प्रत्याशी नहीं उतारेगी. बिहार भाजपा के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने भी चिराग को स्पष्ट संदेश देते हुए कहा था कि एनडीए में वही रहेगा जो नीतीश को नेता मानेगा.

बता दें कि 243 में से 122 सीटें जेडीयू के खाते में गई हैं. इनमें से 115 सीटों पर जेडीयू और 7 सीटों पर जीतनराम मांझी की पार्टी हम चुनाव लड़ेगी. वहीं भाजपा के खाते में 121 सीटें आई हैं. भाजपा अपनी सीटों में से कुछ सीटें एनडीए में शामिल हुई विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) को देगी.

Source link