बहुत ही आसान शर्तों पर इस कंपनी की कार को कर सकते है फाइनेंस

Facebook


भारतीय ग्राहकों के बीच ​अपनी ब्रिकी बढ़ाने और कार की खरीद के लिए आसान फाइनेंस प्रदान करने के लिए HCIL नई वित्तीय योजनाओं की पेशकश करने के लिए विभिन्न वित्तीय संस्थानों के साथ मिलकर काम कर रहा है. HCIL ने अपनी चौथी जनरेशन Honda City खरीदारों के लिए ग्राहक अनुकूल कार्यक्रम के लिए Kotak Mahindra Bank Ltd के साथ साझेदारी की है. कार्यक्रम के तहत ग्राहक 5 साल के लिए 6.99% की दर से कम ब्याज दर और शुरुआती 3 महीने के लिए कम EMI पर 999 प्रति लाख रुपये का लाभ उठा सकते हैं, जो ग्राहक एक्सचेंज में रुचि रखते हैं, वे एक्सचेंज बॉनस का भी लाभ उठा सकते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Honda ने HDFC बैंक के साथ भी विभिन्न फाइनेंस स्कीम को लेकर साझेदारी की है. इस योजना के तहत, ग्राहकों को होंडा मॉडल पर कार्यकाल के अंत में स्टेप-अप EMI और बैलून EMI का संयोजन प्राप्त करना होगा. ग्राहक 7 साल के लिए लोन लेकर कार खरीदते हैं तो उन्हें अधिकाश अवधि के दौरान कम EMI का भुगतान करना होगा, जबकि शेष राशि को अंतिम EMI में शामिल किया जाएगा. इस योजना के लिए ब्याज दर 9.25 फीसद होगी और कार्यकाल के अंतिम महीने के हिस्से में आने वाली बैलून EMI के साथ EMI हर साल बढ़ेगी.

इस मामले को लेकर Honda Cars इंडिया का मानना है कि कोविड-19 महामारी के साथ, लोग कोरोनावायरस के खिलाफ अतिरिक्त सावधान रहेंगे और तेजी से व्यक्तिगत गतिशीलता का विकल्प चुनेंगे. कंपनी का कहना है कि इस तरह की आसान वित्त योजनाएं इस कठिन दौर में वित्तपोषण के कई मुद्दों को हल कर सकती हैं. इसी तरह के फाइनेंस विकल्प दूसरी कार कंपनियां जैसे टाटा मोटर्स, महिंद्रा, मारुति सुजुकी स्कोडा ऑटो, फॉक्सवैगन, फिएट और मर्सिडीज-बेंज इंडिया ने भी शुरू की हैं.

भारतीय ग्राहकों के बीच ​अपनी ब्रिकी बढ़ाने और कार की खरीद के लिए आसान फाइनेंस प्रदान करने के लिए HCIL नई वित्तीय योजनाओं की पेशकश करने के लिए विभिन्न वित्तीय संस्थानों के साथ मिलकर काम कर रहा है. HCIL ने अपनी चौथी जनरेशन Honda City खरीदारों के लिए ग्राहक अनुकूल कार्यक्रम के लिए Kotak Mahindra Bank Ltd के साथ साझेदारी की है. कार्यक्रम के तहत ग्राहक 5 साल के लिए 6.99% की दर से कम ब्याज दर और शुरुआती 3 महीने के लिए कम EMI पर 999 प्रति लाख रुपये का लाभ उठा सकते हैं, जो ग्राहक एक्सचेंज में रुचि रखते हैं, वे एक्सचेंज बॉनस का भी लाभ उठा सकते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Honda ने HDFC बैंक के साथ भी विभिन्न फाइनेंस स्कीम को लेकर साझेदारी की है. इस योजना के तहत, ग्राहकों को होंडा मॉडल पर कार्यकाल के अंत में स्टेप-अप EMI और बैलून EMI का संयोजन प्राप्त करना होगा. ग्राहक 7 साल के लिए लोन लेकर कार खरीदते हैं तो उन्हें अधिकाश अवधि के दौरान कम EMI का भुगतान करना होगा, जबकि शेष राशि को अंतिम EMI में शामिल किया जाएगा. इस योजना के लिए ब्याज दर 9.25 फीसद होगी और कार्यकाल के अंतिम महीने के हिस्से में आने वाली बैलून EMI के साथ EMI हर साल बढ़ेगी.

इस मामले को लेकर Honda Cars इंडिया का मानना है कि कोविड-19 महामारी के साथ, लोग कोरोनावायरस के खिलाफ अतिरिक्त सावधान रहेंगे और तेजी से व्यक्तिगत गतिशीलता का विकल्प चुनेंगे. कंपनी का कहना है कि इस तरह की आसान वित्त योजनाएं इस कठिन दौर में वित्तपोषण के कई मुद्दों को हल कर सकती हैं. इसी तरह के फाइनेंस विकल्प दूसरी कार कंपनियां जैसे टाटा मोटर्स, महिंद्रा, मारुति सुजुकी स्कोडा ऑटो, फॉक्सवैगन, फिएट और मर्सिडीज-बेंज इंडिया ने भी शुरू की हैं.