पापा मम्मी को मार रहे थे, पहले चीखीं फिर चुप हो गईं, सुबह सब रोने..बोले मां चली गई

ग्वालियर (मध्य प्रदेश). अगर किसी बच्चे के सामने उसकी मां की हत्या कर दी जाए तो सोचो मासूम के दिल पर क्या बीतेगी। ऐसी एक मार्मिक कहानी मध्य प्रदेश के ग्वालियर से सामने आई है, जहां एक मासूम बच्चे ने रोते हुए पुलिस को सुनाई तो उनकी आंखों में भी आंसू आ गए। क्योंकि यहां हत्यारा कोई और नहीं इस बेटे का पिता ही था, जिसने उसकी आंखों के सामने मां को उससे छीन लिया। 

पिता की क्रूरता की कहानी मासूम की जुबानी
मां की हत्या का चश्मदीद 7 साल का बेटा गिर्राज है जिसने पिता की करतूत सबको सुनाई। मासूम बोला-रात को मम्मी-पापा की लड़ाई हो रही थी, मेरी नींद खुल गई तो मैंने देखा कि पापा मम्मी के सिर में ईंट मार रहे थे। उनकी साछी पर पैर रख कपड़े से गला दबाने लगे। में चिल्लाया तो वो कहने लगे कि सोजा नहीं तो तेरी पिटाई करूंगा। में सो गया, जब सुबह उठा तो सभी घरवाले तेज तेज रो रहे थे, मामी से पूछा क्या हो गया तो वह बोली मम्मी मर गईं। दरअसल, यह पूरी घटना शनिवार तड़के सुबह पांच बजे के आसपास की बताई जाती है। जहां ग्लालियर जिले के घाटीगांव के पंचमपुरा में भूता देवी बंजारा  नाम की महिला की उसके पति हरिवल्भ ने हत्या कर दी। पुलिस ने बेटे बताई बात पर आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

मां को याद कर रोए जा रहा है मासूम
बता दें मासूम अपनी आंखों के सामने मां को मार डालने की घटना को याद कर रोए जा रहा है। वह इस पूरे मामले से दहशत में है। वो बार बार मम्मी मम्मी पुकारे जा रहा है। किसी से बात नहीं कर रहा है। शयद उसे यकीन नहीं हो रहा है कि उसकी मां अब इस दुनिया में नहीं रही।

अक्सर पति-पत्नी की होती रहती थी लड़ाई
मृतक महिला के मायके वालों ने बयाया कि उनकी बहन का पति हरिवल्भव जयर में काम करता था। जहां वो चार दिन पहले ही अपने गांव आया हुआ था। पिछले चारों दिन से दोनों के बीच किसी ना किसी बात को लेकर लड़ाई हो रही थी। पड़ोसियों का कहना है कि आए दिन यह पति पत्नी झगड़ते रहते थे, इसलिए हम लोग नहीं आई। हालांकि आवाज तो सुनाई दे थी, सोचा शांत हो जाएंगे।  बताया जाता है कि दीपावली से महिला मायके में रह रही थी। यह पता नहीं चल सका है कि यह झगड़े आखिरकार किस बात पर होते थे। 
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here