पद्म भूषण पंडित राजन मिश्रा का हार्ट अटैक से निधन, कोरोना संक्रमित थे

Pandit Rajan Mishra

पद्म भूषण पंडित राजन मिश्रा को कोरोना संक्रमण के अलावा हृदय से जुड़ी समस्याएं भी थीं. उन्हें गंभीर हालत में रविवार को दिल्ली के सेंट स्टीफेंस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सोशल मीडिया पर कुछ संगीतप्रेमियों ने उनके इलाज के लिए बेड और ऑक्सीजन की मदद मांगी थी.

Padam Bhushan Pandit Rajan Mishra (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • कोरोना के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था
  • पं. राजन मिश्र को हार्ट संबंधी समस्या भी थी
  • डॉक्टरों के अनुसार हॉर्ट अटैक से निधन हुआ

नई दिल्ली:

शास्त्रीय संगीत में पंडित राजन-साजन मिश्र (Rajan-Sajan Mishra) की बेमिसाल जोड़ी को भी कोरोना लील गई. शास्त्रीय संगीतज्ञ पद्म भूषण पंडित राजन मिश्र (Pt. Rajan Mishra) का आज (रविवार को) निधन हो गया. अपने समधुर आवाज से वाराणसी की संगीत परंपरा को बुलंदियों तक पहुंचाने वाले पंडित राजन मिश्र ने आज दिल्ली के सेंट स्टीफन अस्पताल में अपने जीवन की अंतिम सांस ली. उनके परिवार ने भी उनके निधन की पुष्टि कर दी है. डॉक्टरों ने हार्ट फेल होने से उनके निधन की जानकारी दी. हालांकि उन्हें कोरोना संक्रमित होने के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 

ये भी पढ़ें- कोरोना के खिलाफ जंग में उतरे गुरुमीत चौधरी, पटना-लखनऊ में खोलेंगे अस्पताल

पद्म भूषण पंडित राजन मिश्रा को कोरोना संक्रमण के अलावा हृदय से जुड़ी समस्याएं भी थीं. उन्हें गंभीर हालत में रविवार को दिल्ली के सेंट स्टीफेंस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सोशल मीडिया पर कुछ संगीतप्रेमियों ने उनके इलाज के लिए बेड और ऑक्सीजन की मदद मांगी थी. बड़ी मशक्कत के बाद उन्हें सेंट स्टीफेंस अस्पताल में भर्ती कराया जा सका था. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पंडित राजन मिश्र का निधन हृदय गति रुकने से बताया जा रहा है.

बनारस घराने से ताल्लुक रखने वाले पं. राजन मिश्र भारत के प्रसिद्ध शास्त्रीय गायक थे. इन्हें सन 2007 में भारत सरकार द्वारा कला के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था. इनका संबंध बनारस घराने से था. उन्होंने 1978 में श्रीलंका में अपना पहला संगीत कार्यक्रम दिया और इसके बाद उन्होंने जर्मनी, फ्रांस, स्विट्जरलैंड, ऑस्ट्रिया, संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, नीदरलैंड, यूएसएसआर, सिंगापुर, कतर, बांग्लादेश समेत दुनिया भर के कई देशों में प्रदर्शन किया.

ये भी पढ़ें- करण जौहर की बढ़ी मुश्किलें, बिक सकता है धर्मा प्रोडक्शन

पं. राजन मिश्र पहलवानी के भी शौकीन रहे थे. बचपन में अपने छोटे भाई साजन मिश्र के साथ अखाड़े में मशक्कत कर खुद को फिट रखते थे और क्रिकेट खेलने का भी बहुत शौक था. कॉलेज लेवल तक खेला भी. राजन और साजन मिश्रा दोनों भाई थे और साथ में ही कला का प्रदर्शन करते थे. दोनों भाइयों ने पूरे विश्व में खूब प्रसिद्धी हासिल की. पंडित राजन और साजन मिश्रा का मानना था कि जैसे मनुष्य का शरीर पांच तत्वों से मिलकर बना है, वैसे ही संगीत के सात सुर पशु-पक्षियों की आवाज से बनाए गए हैं.



संबंधित लेख

First Published : 25 Apr 2021, 09:18:03 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Follow Us: | Google News | Dailyhunt News| Facebook | Instagram | TwitterPinterest | Tumblr |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here